क्रिकेट जगत की इन 5 नस्लीय घटनाओं ने जेंटलमैन गेम को किया शर्मसार 1
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट को खेल जगत का सबसे बड़ा जेंटलमैन गेम माना जाता है। क्रिकेट को शुरुआत से ही भद्रजनों के द्वारा खेला जाने वाला खेल कहा जाता है। इस जेंटलमैन गेम में पिछले कुछ सालों में खेल भावना काफी बार आहत की गई है। जिसमें खिलाड़ियों के मैदान में रवैये से लेकर खिलाड़ियों के साथ व्यवहार भी खूब चर्चा में रहे।

क्रिकेट जगत की 5 शर्मसार करने वाली नस्लीय टिप्पणी

इस खेल में पिछले कुछ सालों में कई बार धर्म और रंगरूप को लेकर नस्लीय टिप्पणी का सामना कई खिलाड़ियों को करना पड़ा है। नस्लीय टिप्पणी सबसे शर्मनाक घटनाओं में से एक मानी जाती है, लेकिन इसके बाद भी कई ऐसे खिलाड़ी रहे जो नस्लीय टिप्पणी करने से पीछे नहीं रहे हैं।

क्रिकेट जगत की इन 5 नस्लीय घटनाओं ने जेंटलमैन गेम को किया शर्मसार 2

हाल ही में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ओली रोबिन्सन के 8 साल पहले ट्वीटर पर की गई नस्लीय और लिंगभेदी टिप्पणी उजागर हुई, जिसके बाद उन्हें प्रतिबंधित कर दिया गया है। तो इस चर्चा के बीच आपको बताते हैं नस्लीय टिप्पणी की वो घटनाएं जिससे इस खेल को होना पड़ा शर्मसार…

जब कोलिन क्राफ्ट को अश्वेत होने के कारण ट्रेन से उतारा

वेस्टइंडीज के खिलाड़ी आमतौर पर अश्वेत रंग के ही होते हैं, ऐसे में उनके साथ कई बार नस्लीय टिप्पणी देखने को मिली, लेकिन सबसे बड़ी घटना साल 1983 में महान वेस्टइंडीज खिलाड़ी कोलिन क्राफ्ट के साथ हुई। दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई वेस्टइंडीज की टीम के कोलिन क्राफ्ट को उनके रंग के कारण ट्रेन से ही उतार दिया गया।

क्रिकेट जगत की इन 5 नस्लीय घटनाओं ने जेंटलमैन गेम को किया शर्मसार 3

इस दौरे पर कोलिन एक ट्रेन में श्वेत लोगों के साथ चढ़ गए। बताया जाता है कि उन्हें अश्वेत होने के कारण ट्रेन से उतार दिया गया। जिसके बाद थर्ड क्लास डिब्बे में चढ़ाने में एक श्वेत ने ही मदद की थी। इसके बाद दक्षिम अफ्रीका सरकार की काफी किरकिरी हुई। इसी तरह से भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को भी पीटरमेरिट्सबर्ग में ट्रेन से उतार दिया था।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse