श्रीलंका बनाम भारत: ये है श्रीलंका पर भारत के जीत के 5 मुख्य कारण

SAGAR MHATRE / 24 August 2015

भारत ने श्रीलंका को दुसरे टेस्ट में 278 रनों से हराया. भारत ने इस टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया, और ये जीत दर्ज की. पहले टेस्ट में भारत ने अपनी गलतियों की वजह से हार मिली थी, जो भारत ने इस टेस्ट में नहीं दोहराई.

अब हम देखते है भारत की जीत के पांच मुख्य कारण:

1. सलामी जोडी का कमाल, और अच्छी साझेदारी:

पहली पारी में लोकेश राहुल ने शतक लगाया, तो दुसरी पारी में मुरली विजय का बल्ला चला. इस वजह से भारत को अच्छी शुरूआत मिली. तो साझेदारी की बात करे तो, पहली पारी में राहुल और कप्तान कोहली के बीच शानदार साझेदारी हुई, जहां से भारत ने बडा स्कोर खडे करने की नीव रखी. तो दुसरी पारी में रहाणे और विजय की साझेदारी ने, श्रीलंका के सामने बडा लक्ष्य रखने में मदद की.

2. नंबर 3 के बल्लेबाज का चलना:

नंबर तीन भारतीय टीम के लिए परेशानी का सबब बन चुका था, और इस मैच में रोहित की जगह रहाणे को भारतीय टीम ने नंबर 3 पर खेलने का मौका दिया. पहली पारी में वे नाकाम रहे, लेकिन दूसरी पारी में शानदार शतक लगाकर उन्होंने इस कमी को पुरा किया. और इस वजह से भारत की परेशानी कम हुई.

3. सहीं समय पर दुसरी पारी घोषित करना:

भारत चौथे दिन बल्लेबाजी कर रहा था, और भारत श्रीलंका को कितना लक्ष्य देगा, इस पर सभीकी निगाहें थी. भारत ने चौथे दिन टी के बाद 8 विकेट पर 325 रन बनाकर अपनी पारी घोषित की, और श्रीलंका को 413 का लक्ष्य दिया. और चौथे दिन दो विकेट निकालकर श्रीलंकाई उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

4. भारतीय स्पिनरों का बोलबाला:

भारतीय स्पिनरों ने इस टेस्ट में शानदार गेंदबाजी की, और श्रीलंकाई बल्लेबाजों को टिकने का मौका नहीं दिया. पहली पारी में, अश्विन को 2 तो मिश्रा ने 4 विकेट लिए. तो दूसरी पारी में, अश्विन ने 5 तो मिश्रा को 3 विकेट मिले. तो कुल मिलाकर इन दोनो ने 20 में से 14 विकेट लिए, और श्रीलंका को पस्त कर दिया.

5. दुसरी पारी में श्रीलंका की खराब बल्लेबाजी:

श्रीलंका के सामने भारत ने जीतने के लिए 413 रनों का लक्ष्य रखा था. चौथे दिन श्रीलंका का स्कोर 2 विकेट पर 72 था, और ये उम्मीद थी कि, पांचवें दिन श्रीलंका ये मैच बचाने का प्रयास करेगी. लेकिन हुआ इसके उल्टा, और पांचवें दिन श्रीलंका के एक के बाद एक विकेट गिरे, और उनकी टीम 134 रनों पर ढेर हो गयी.

Related Topics