सचिन तेंदुलकर
Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

भारत में क्रिकेट का जबरदस्त क्रेज है। वैसे तो भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है लेकिन जिस तरह से यहां पर क्रिकेट को पसंद किया जाता है और क्रिकेट के खेल को लेकर खिलाड़ियों में उत्साह देखा जाता है, वो वाकई में अलग ही अहसास कराता है। भारत में क्रिकेट के खेल को बहुत ज्यादा पसंद किया जाता है, जिससे सभी तो लगता है कि भारत में क्रिकेट से बड़ा कोई खेल नहीं है।

भारत के इन 6 बड़े क्रिकेटरों ने क्रिकेट के लिए छोड़ दी अपनी पढ़ाई

क्रिकेट खेलने के लिए आज लाखों युवा लगे हुए हैं, जो किसी ना किसी तरह से क्रिकेट में अपना करियर बनाने के लिए प्रयासरत हैं। तो वहीं कई खिलाड़ियों ने क्रिकेट में अपना करियर बना लिया है। क्रिकेट में करियर बनाने के लिए कई खिलाड़ियों ने तो अपनी पढ़ाई तक दांव पर लगा दी है।

हार्दिक पांड्या

ऐसे ही क्रिकेटर भारतीय क्रिकेट टीम में खेल चुके हैं, जिन्होंने क्रिकेट में अपने करियर को आधार देने के लिए पढ़ाई तक का त्याग कर दिया। तो आपको हम इस रिपोर्ट में बताते हैं, भारत के वो 6 बड़े क्रिकेटर जिन्होंने क्रिकेट के लिए छोड़ दी अपनी पढ़ाई…

कपिल देव

भारतीय क्रिकेट टीम के सर्वकालिन महान ऑलराउंडर खिलाड़ी कपिल देव का भारतीय क्रिकेट में जबरदस्त योगदान रहा है। कपिल देव ने भारतीय टीम को अपनी कप्तानी में साल 1983 में क्रिकेट विश्व कप का खिताब दिलाया था। कपिल देव कमाल के ऑलराउंडर रहे जिन्होंने गेंद और बल्ले दोनों से ही प्रभावशाली प्रदर्शन किया।

कपिल देव ने क्रिकेट की खातिर केवल 16 साल की उम्र में ही पढ़ाई को छोड़ दिया और फिर क्रिकेटर बनने में जुट गए जो बाद में भारत के एक महान क्रिकेटर बने।

हार्दिक पंड्या

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा स्टार ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पंड्या आज टीम के सबसे उपयोगी खिलाड़ियों में शुमार हो चुके हैं। हार्दिक पंड्या ने भारतीय टीम के लिए साल 2016 में खेलना शुरू किया जिसके बाद वो सीमित ओवर की क्रिकेट में तो बहुत ही जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे हैं।

हार्दिक पंड्या को शुरुआत से ही क्रिकेट को बड़ा शौक रहा। उन्होंने क्रिकेट में अपना करियर बनाने के लिए पढ़ाई को भी दांव पर लगा दिया और9वीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ने के बाद क्रिकेटर बनने की दिशा में चल पड़े।

हार्दिक पांड्या

सचिन तेंदुलकर

विश्व क्रिकेट के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर भारत और विश्व क्रिकेट के सबसे बड़े बल्लेबाज हैं। सचिन तेंदुलकर के नाम आज क्रिकेट में कीर्तिमानों क अंबार है। सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल क्रिकेट इतिहास में अपने जीवन के 24 साल का समय दिया। उन्होंने कमाल की क्रिकेट खेली।

सचिन ने केवल 16 साल की उम्र में ही डेब्यू कर लिया था। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए डेब्यू करने के बाद अपनी हाई सैकेंडरी स्कूल की परीक्षा दी जिसके बाद वो कभी नहीं पढ़े।

सचिन तेंदुलकर

Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse