यह है वो पांच कारण जिनके चलते टीम इंडिया पर होगा महा मुकाबले में ज्यादा दबाव | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

यह है वो पांच कारण जिनके चलते टीम इंडिया पर होगा महा मुकाबले में ज्यादा दबाव 

यह है वो पांच कारण जिनके चलते टीम इंडिया पर होगा महा मुकाबले में ज्यादा दबाव

चैंपियंस ट्रॉफी में आज भारत और पाकिस्तान के बीच महामुकाबला होने जा रहा है. कागजों पर मजबूत टीम इंडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ पिछले 10 में से 6 मैचों में जीत दर्ज की है. विराट के सेना पूरे दमखम के साथ जीतने के इरादे से मैदान पर उतरेगी. कप्तान विराट कोहली कह चुके हैं कि उनके लिए यह मैच बाकी टीमों के खिलाफ होने वाले एक सामान्य मैच की तरह ही है. बावजूद इसके टीम इंडिया पर पाकिस्तान के खिलाफ जीत दर्ज करने का दबाव जरूर होगा. और आज इस मौके पर हम आपको भारत के ऊपर दबाव होने के मुख्य पांच कारण बताएँगे.ऐसी कंपनी से नाता तोड़ने वाले है विराट कोहली, जिसके साथ धोनी और सचिन ने किया था लम्बे समय तक करार

ये है वो पांच मुख्य कारण

फैंस को चाहिए सिर्फ जीत

यह है वो पांच कारण जिनके चलते टीम इंडिया पर होगा महा मुकाबले में ज्यादा दबाव 1

भारतीय खेलप्रेमियों को दुनिया के किसी भी टीम से मैदान पर हार बर्दाश्त है, लेकिन पाक के खिलाफ क्रिकेट प्रशंसक सिर्फ जीत की उम्मीद ही रखते हैं. दोनों देशों के बीच रिश्ते ऐसे हैं जिनमें एक-दूसरे पर जीत खेल से भी ज्यादा मायने रखती है. टीम इंडिया पर सवा सौ करोड़ खेल प्रेमियों का भी दबाव है जिनके लिए उसका मैच जीतना और भी अहम हो जाता है.

आईसीसी रैंकिंग

टीम इंडिया मौजूदा वक्त में आईसीसी रैंकिंग में तीसरे पायदान पर पर है. भारत से ऊपर दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया की टीमें हैं. जबकि पाकिस्तान आईसीसी रैंकिंग में बांग्लादेश से भी पीछे आठवें पायदान पर है. पाकिस्तान के कप्तान सरफराज ने शनिवार को ही मुकाबले से पहले कहा था कि उनके पास गंवाने के लिए कुछ नहीं है और उनकी टीम अभी 8वें स्थान पर हैं इससे और नीचे और क्या जाएगी.

भारत पाकिस्तान मुकाबला 

भारत और पाकिस्तान ने करीब 5 साल से दिपक्षीय सीरीज नहीं खेली है. दोनों देशों के बीच कूटनीतिक रिश्तों और तनाव की की वजह से दोनों मुल्क आपसी सीरीज नहीं खेल रहे हैं. भारत सिर्फ आईसीसी टूर्नामेंट में पाक के खिलाफ क्रिकेट खेल रहा है. इसी वजह से रिश्तों की बहाली के लिए भारत को यह मैच जीतना होगा. ताकि क्रिकेट के जरिए राजनीतिक रिश्तों की एक नई शुरुआत हो सके.

विराट परीक्षा

India v New Zealand - ICC Champions Trophy Warm-up : News Photo

चैंपियंस ट्रॉफी में विराट कोहली पहली बार किसी आईसीसी टूर्नामेंट में बतौर कप्तान मैदान पर उतरेंगे. ऐसे में उनकी कप्तानी में भारत को जीत से कम कुछ भी मंजूर नहीं होगा. बल्लेबाज पर तौर पर भी कोहली के कंधों पर जीत का दारोमदार होगा. पाकिस्तान के खिलाफ विराट का रिकॉर्ड शानदार रहा है. और 2015 के विश्व कप के बाद वह एक वन डे और 2 टी-20 मुकाबलों में पाकिस्तान के विरुद्ध लगातार 3 बार मैन ऑफ द मैच चुने गए हैं. पाक कप्तान सरफराज अहमद खुद यह मान चुके हैं कि टीम इंडिया के खिलाफ विराट को रोकना उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती होगी.पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले विराट कोहली ने दी पाकिस्तान को चेतावनी, लेकिन इस बात पर बरक़रार रखी चुप्पी    

पाकिस्तान की अनुभवहीन टीम 

चैंपियन ट्रॉफी में भारत का मुकाबला पाकिस्तान की नई टीम से होगा. टीम के कप्तान सरफराज के पास कप्तानी का ज्यादा अनुभव नहीं है. शोएब मलिक और मोहम्मद हफीज के अलावा किसी पाक खिलाड़ी के नाम 100 वनडे मैच तक नहीं हैं. इसकी ठीक उलट भारत के पास एम एस धोनी, शिखर धवन, विराट कोहली, रोहित शर्मा और दिनेश कार्तिक जैसा अनुभवी बल्लेबाजी क्रम है. गेंदबाजी में भी पाकिस्तान के पास अनुभव की कमी है. ऐसे में भारत की अनुभवी टीम के लिए पाक के शिकस्त देना जरूरी होगा.

Related posts