लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 1

भारतीय क्रिकेट इतिहास में मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को रिकॉर्ड पुरूष माना जाता है। सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में ढे़रो रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। सचिन तेंदुलकर के कई रिकॉर्ड तो उन्हें ऐसे शिखर पर पहुंचा चुके हैं जिसके पास जाना तो दूर कल्पना करना तक भी बड़ी बात है।

वहीं सचिन तेंदुलकर  ने भारतीय क्रिकेट को एक नय़ा आयाम दिया तो अब सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर भी धीरे-धीरे अपने आपको तैयार कर चुके हैं।

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 2

सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर चल रहे हैं पिता के नक्शेकदम

सचिन तेंदुलकर के इंटरनेशनल क्रिकेट में संन्यास लेने के बाद अब तो सबकी नजरें जूनियर तेंदुलकर पर हैं। अर्जुन तेंदुलकर भी अपने पिता सचिन तेंदुलकर के नक्शे कदम पर चलते हुए जूनियर लेवल की क्रिकेट में जबरदस्त दमखम दिखा रहे हैं। अर्जुन तेंदुलकर में बदलाव तो बस इतना है कि इनका सबसे बड़ा हथियार उनकी तेज गेंदबाजी है और साथ ही बल्लेबाजी में भी उपयोगी योगदान दे सकते हैं।

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 3

सचिन ने दिया है देश को गौरव, अर्जुन से भी है यहीं उम्मीद

सचिन तेंदुलकर ने अपने देश के नाम को बड़ा ही गौरवान्वित किया। और कुछ उसी तरह की उम्मीदें अर्जुन तेंदुलकर से भी हैं। सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर की क्रिकेट को लेकर पहली बार खुलकर बोले हैं। सचिन तेंदुलकर ने तो यहां तक कह दिया कि उन्होंने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को उतनी आजादी दे रखी ही, जितनी सचिन के पिता ने उन्हें दे रखी थी।

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 4

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 5

पिता ने जिस तरह मुझे दी आजादी, वहीं आजादी है अर्जुन के पास- सचिन

सचिन तेेंदुलकर ने कहा कि

वो कोशिश कर रहा है। जिस तरह से मुझे मेरे पिताजी ने आजादी दे रखी थी। उसी तरह से मैं भी उसे(अर्जुन) को आजादी दे रहा हूं। वो उसके जीवन में जो कुछ भी करना  चाहे वो अपना बेस्ट दे।वो अर्जुन ही होना चाहिए वहां पर उसकी मुझसे कोई तुलना नहीं होनी चाहिए।” 

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 6

केवल अपने लक्ष्य पर ही अर्जुन रखे अपना ध्यान

इसके साथ ही सचिन तेंदुलकर ने आगे कहा कि

यहां पर कई तरह की चीजें हैं, लेकिन उसका ध्यान केवल खेल और अपने लक्ष्य पर ही होना चाहिए। एक अभिभावक के रूम में मैं यहीं चाहता हूं। तुलना तो होगी। अगर वो ऐसा करना चाहते हैं। तो वो करेंगे लेकिन मैंने जिस तरह से मेरे पिता से सीखा कि जो काम कर रहे हो उसे करते जाओ। आपका ध्यान उसी पर रखो। बाकी बची हुई चीजें तो अपने-आप ही होती चली जाएंगी।”

लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को लेकर बोले पहली बार कहीं य़े दिल छू लेने वाली बात 7

Leave a comment