भारत में इस साल खत्म नहीं होगा कोरोना वायरस, बाहर कराना होगा आईपीएल: सौरव गांगुली 1

क्रिकेट जगत में साल 2008 में भारत की भूमि पर क्रिकेट का सबसे बड़ा क्रांतिकारी बदलाव आया इंडियन प्रीमियर लीग का अस्तित्व हुआ। इंडियन प्रीमियर लीग यानि आईपीएल की शुरुआत इस साल होने के बाद तो इस लीग ने देखते ही देखते पूरे विश्व क्रिकेट के फैंस के दिलों में अपनी जगह बना ली। जिसके बाद साल दर साल इसने लोकप्रियता के ग्राफ को ऊंचा ही किया।

कोरोना के कारण आईपीएल का ये सीजन नहीं हो सका है अब तक

आईपीएल ने आज की तारीख में इतना बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है जहां से ये लीग किसी पहचान की मोहताज नहीं रही। इस टी20 क्रिकेट लीग के बिना दर्शकों को अब रहा नहीं जाता है। जो हर साल इसका बेसब्री से इंतजार करते हैं।

भारत में इस साल खत्म नहीं होगा कोरोना वायरस, बाहर कराना होगा आईपीएल: सौरव गांगुली 2

लेकिन इस साल आईपीएल के इतिहास में पहली बार हुआ है जब अब तक दर्शकों को इस सीजन के शुरू होने का बेताबी से इंतजार है। कोरोना काल के कारण इस साल आईपीएल अब तक शुरू नहीं किया जा सका है।

भारत में आईपीएल 13 के आयोजन की संभावना हो चुकी है पूरी तरह से खत्म

कोरोना नाम की वैश्विक बीमारी ने भारत में अपने पांव इस तरह से जमा लिए हैं कि यहां पर कोरोना का जबरदस्त रोद्र रूप देखा जा रहा है। भारत अब विश्व में तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश बन चुका है जहां संक्रमितों की संख्या 7 लाख को पार कर चुकी है।

आईपीएल

ऐसे में भारत में तो इस साल आईपीएल का आयोजन बहुत ही मुश्किल नजर आ रहा है। एक तरफ बीसीसीआई आईपीएल के इस सीजन का आयोजन कराने की पूरी कोशिश कर रहा है ऐसे में फैंस सोच रहे हैं कि आईपीएल का आयोजन आखिर कब और कहां पर होगा। ये सवाल लगातार बड़ा होता जा रहा है।

सौरव गांगुली ने भी दिया संकेत, भारत में नहीं होगा आईपीएल

इसी बीच भारतीय क्रिकेट कन्ट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने साफ कर दिया है कि भारत में तो कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए आयोजन बहुत ही मुश्किल है। सौरव गांगुली ने भारत के युवा टेस्ट सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल के साथ बातचीत करने के दौरान इस बात का जवाब दिया।

भारत में इस साल खत्म नहीं होगा कोरोना वायरस, बाहर कराना होगा आईपीएल: सौरव गांगुली 3

सौरव गांगुली ने दादा ओपन विद मयंक नाम के कार्यक्रम में कहा कि “मुझे लगता है कि अगले दो-तीन-चार महीनें थोड़े मुश्किल होंगे। हमें बस इसे सहन करना होगा और साल के अंत तय या अगले साल की शुरुआत तक जीवन सामान्य हो जाना चाहिए। “

गांगुली ने आगे कहा कि “मैं टीके के निकलने का इंतजार करूंगा। तब तक हमें थोड़ा सावधान रहना होगा। हम जानते हैं कि क्या हो रहा है और हम बीमार नहीं पड़ना चाहते हैं, लार एक मुद्दा है। हो सकता है कि एक बार टीका लगने के बाद किसी भी तरह की बीमारी की तरह सबकुछ ठीक हो जाएगा।”