अजिंक्य रहाणे को बाहर करना होगी टीम की बड़ी भूल : सौरव गांगुली 1

भारत और न्यूजीलैंड के बीच चल रही वनडे श्रृंखला में अभी तक बेहद ही साधारण सा प्रदर्शन करने वाले अजिंक्य रहाणे पर चारों तरफ से सवालियाँ निशान उठ रहे है. जिस पर भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अजिंक्य रहाणे का समर्थन करते हुए कहा है, कि

”यह बिलकुल भी सही समय नहीं है अजिंक्य रहाणे को वनडे टीम से बाहर करने का और टीम प्रबंधक उन्हें अगले मुकाबले से टीम से बाहर कर देते है, तो यह टीम के लिए सबसे बड़ी भूल होगी.”

सिर्फ रहाणे ही नहीं बल्कि रोहित शर्मा भी इस वक़्त टीम के लिए बढ़िया प्रदर्शन नहीं कर पा रहे है. रोहित और रहाणे भारतीय टीम के बढ़िया सलामी बल्लेबाज है और दोनों ही टीम को अच्छी और मजबूत शुरुआत देने के लिए जाने जाते है, लेकिन मौजुदा वनडे श्रृंखला में ऐसा बिलकुल भी देखने को नहीं मिला है. दोनों अभी तक ना सिर्फ अपने बल्ले से बल्कि टीम को भी अच्छी शुरुआत दिलाने में विफल रहे है. दोनों ने अभी तक टीम के लिए 49, 21, 13 और 19 रनों की साझेदारी की है. जिस कारण मध्यमक्रम के बल्लेबाजों को अधिक दबाव झेलना पड़ा रहा है और टीम मैच नहीं जीत पा रही हैं.

अजिंक्य रहाणे ने सीरीज के पहले तीन मुकाबलों में तो बुरी तरह से फ्लॉप रहे जिस कारण अगले दो वनडे मैचों की टीम से भी बाहर हो सकते थे और टीम में उनकी जगह शिखर धवन या के.एल.राहुल को स्थान दिया जा सकता था, लेकिन उन्हें एक और मौका मिला रांची वनडे इंडिया हार गयी लेकिन रहाणे ने मैच में 57 रन का अच्छा स्कोर किया.

अजिंक्य रहाणे को बाहर करना होगी टीम की बड़ी भूल : सौरव गांगुली 2

रहाणे भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान है और उन्होंने न्यूजीलैंड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज में लाजवाब बल्लेबाजी की थी लेकिन अपनी उस फॉर्म को एकदिवसीय क्रिकेट में नहीं बदल पाए.

भारत के पूर्व बल्लेबाज और कप्तान सौरव गांगुली ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में कहा है कि

”मुझे रहाणे की वनडे बैटिंग पर पूरा भरोसा हैं. वो लगातार चौके, छक्के मारने के लिए नहीं जाने जाते है. वो एक ऐसे बल्लेबाज है जो टीम के लिए पिच पर रुककर रन बनाते है और मौका मिलते ही चौका भी जड़ा देते है. मैं रहाणे को वनडे टीम से बाहर करने के फेवर में नहीं हूँ, इसलिए कह रहा हूँ टीम की यह सबसे बड़ी भूल होगी.”

रहाणे की तुलना हमेशा से ही महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ से होती रही है. जिस पर गांगुली ने बोला कि

”रहाणे कही ना कही राहुल जैसा ही खेलता है और मैं नहीं मानता कि टीम में उनकी जगह खतरे में है. जब द्रविड़ ने खेलना शुरू किया था तब उनकी भी टीम के रन रेट के हिसाब से खेलने में दिक्कत होती थी. यही अब रहाणे के साथ भी हो रहा है. टीम मैनेजमेंट को रहाणे को थोड़ा सा समय देना चाहिये.”

Akhil Gupta

Content Manager & Senior Writer at #Sportzwiki, An ardent cricket lover, Cricket Statistician.