इस पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, गौतम गंभीर मेरी गेंद भी नहीं देख पाता था 1

पाकिस्तान की क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान ने दावा किया है कि 2012 की द्विपक्षीय सीरीज के दौरान गौतम गंभीर उनका सामना करने को लेकर असहज थे और इस सीरीज के बाद भारत के इस सलामी बल्लेबाज का सीमित ओवरों की क्रिकेट का करियर ज्यादा लंबा नहीं चल पाया था.

कुल 4 बार 2012 की सीरीज में गंभीर को किया था आउट

इस पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, गौतम गंभीर मेरी गेंद भी नहीं देख पाता था 2

सीमित ओवरों की इस सीरीज (टी-20 और वनडे) में मोहम्मद इरफान ने गंभीर को चार बार आउट किया था. बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर इसके बाद भारत की तरफ से केवल एक और सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ ही खेल पाए और फिर उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था.

हाल ही में मोहम्मद इरफान ने एंकर सवेरा पाशा के यूट्यूब चैनल चैट शो क्रिक कास्ट में  बातचीत करते हुए कहा, “जब भी हमारे पास भारत-पाकिस्तान के मैच होते हैं, तो जो भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं करता है वह जीरो हो जाता है और जो भी प्रदर्शन करता है वह हीरो बन जाता है.”

गेंद भी नहीं देख पा रहा था गौतम गंभीर

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड

इस पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, गौतम गंभीर मेरी गेंद भी नहीं देख पाता था 3

मोहम्मद इरफान ने अपनी इसी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा,जिस तरह से मैं गौतम गंभीर को गेंदबाजी कर रहा था, वह गेंद को देखने में सक्षम नहीं था, जिस तरह से वह मेरी बाउंसर खेल रहा था, हर कोई कह रहा था कि वह गौतम गंभीर की तरह नहीं दिख रहा है.

मेरी ऊंचाई के कारण उन्हें गेंद देखने में भी दिक्कत हो रही थी 

इस पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, गौतम गंभीर मेरी गेंद भी नहीं देख पाता था 4

मोहम्मद इरफान ने कुछ समय पहले भी बोला था कि गौतम गंभीर का सीमित ओवर का क्रिकेट करियर उनकी वजह से ही खत्म हुआ था और इस बार भी उन्होंने ऐसा ही बोलते हुए कहा, “मेरी ऊंचाई और मेरी स्विंग के कारण उन्हें गेंद देखने में भी दिक्कत हो रही थी. शायद मेरी वजह से ही उनका क्रिकेट करियर खत्म हुआ था और इस बात को मैं पहले भी चूका हूं.

मैं ऐसा इसलिए बोलता हूं, क्योंकि वह उसके बाद सिर्फ एक सीरीज ही खेल पाए और उसके बाद कभी टीम में वापस नहीं आ पाए.”

vineetarya

cricket is my first and last love, I know cricket only cricket, I love watching cricket because cricket is my passion and my passion is my work my favourite player Mike Hussey and Kl Rahul