//

इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने कोरोना को दी मात, हुआ पूरी तरह स्वस्थ

कोरोना वायरस चीन से फैलकर पूरी दुनिया भर में अपने पैर पसार चुका है. कोरोना वायरस ने पूरे विश्व में हाहाकार मचा दिया है. इसका सबसे बुरा असर खेलों पर पड़ रहा है, क्योंकि इस वायरस की वजह से दुनियाभर में खेलों को रद्द किया जा रहा है. कई क्रिकेट सीरीज अब तक इस वायरस की भेंट चढ़ चुकी है. इसी बीच पाकिस्तान के क्रिकेट फैंस के लिए राहत की खबर है.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

तौफ़ीक़ उमर ने कोरोना से जंग जीत ली

इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने कोरोना को दी मात, हुआ पूरी तरह स्वस्थ 1

पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ तौफ़ीक़ उमर ने कोरोना से जंग जीत ली है. तौफ़ीक ने अपने ठीक होने की जानकारी देते हुए कहा कि “मैं हर किसी से कोविड-19 से सावधान रहने की अपील करता हूं. इस संक्रमण से सिर्फ़ सावधानी ही बचा सकती है, जिसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग बहुत ज़रूरी है. अपने ‘इम्यून’ सिस्टम को बेहतर करना होगा.”

तौफ़ीक़ उमर तो सही, लेकिन जफर का हो चूका हैं निधन

इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने कोरोना को दी मात, हुआ पूरी तरह स्वस्थ 2

पूर्व पाकिस्तानी फर्स्ट क्लास क्रिकेटर जफर सरफराज का निधन हो गया है. जफर का कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव आया था. 50 साल के पाक क्रिकेटर पिछले तीन दिनों से पेशावर के प्राइवेट अस्पताल में आईसीयू में थे.

जफर सरफराज बाएं हाथ के बल्लेबाज थे. जफर सरफराज ने 1988 में डेब्यू किया था. उन्होंने 15 फर्स्ट क्लास मैचों में पेशावर के लिए 616 रन बनाए हैं. अपने लिस्ट ए के 6 मैचों के करियर में उन्होंने 16 की औसत से 96 रन बनाए हुए हैं. उन्होंने 2000 के मध्य में सीनियर और अंडर-19 पेशावर टीमों दोनों के लिए कोच की भूमिका भी निभाई है. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में इनके नाम 4 अर्धशतक भी रहे हैं.

कुछ ऐसा रहा तौफिक उमर का क्रिकेट करियर

पाकिस्तान

साल 2000 में लगभग उन्होंने पाकिस्तान के लिए खेलने की शुरुआत की थी. वो 2003 विश्व कप के दौरान भी टीम का हिस्सा रहे थे. हालांकि उन्हें बहुत ज्यादा मैच खेलने का अवसर इस बीच मिला नहीं. उन्होंने टेस्ट फ़ॉर्मेट में पाकिस्तान के लिए 44 टेस्ट मैच खेले हैं. जिसमें उन्होंने 37.99 के औसत से 2963 रन बनाये, जिसमें 14 अर्द्धशतक, 7 शतक और एक दोहरा शतक भी शामिल रहा है.

इसके साथ ही 22 वनडे मैच में उन्होंने 24 के औसत से मात्र 504 रन ही बनाये. इस बीच उन्होंने 3 अर्द्धशतक लगाये थे. 2014 में उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था. जिसके बाद ही 2016 में तौफीक उमर ने अपने संन्यास की घोषणा कर दी थी. जिसके बाद वो दूर ही नजर आ रहे थे.