ऋद्धिमान साहा और ऋषभ पंत में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में विकेट के पीछे

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ऋद्धिमान साहा हैं नंबर 1 विकेटकीपर बल्लेबाज, तो क्यों ऋषभ पंत को मौका दे रहे हैं विराट कोहली 

ऋद्धिमान साहा हैं नंबर 1 विकेटकीपर बल्लेबाज, तो क्यों ऋषभ पंत को मौका दे रहे हैं विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम अभी हाल ही में वेस्टइंडीज को उसके ही घर में क्लीन स्वीप कर भारत आयी है, साथ ही अब 15 सितम्बर से भारतीय टीम विराट कोहली की अगुवानी में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध अपनी सीरीज का आगाज करेगी, इसके लिए अब 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए 15 सदस्‍यीय भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान हो गया है, इस टेस्ट में पहली बार ऐसा हुआ है जब दो विकेट कीपर टीम के लिए चुने गए है, अब देखना यह है कि ऋद्धिमान साहा और ऋषभ पंत में से किसको टीम में खेलने का मौका दिया जाएगा.

भारतीय क्रिकेट टीम में चुने गए दो विकेटकीपर

ऋद्धिमान साहा हैं नंबर 1 विकेटकीपर बल्लेबाज, तो क्यों ऋषभ पंत को मौका दे रहे हैं विराट कोहली 1

इस टेस्ट मैच के लिए टीम का ऐलान हो गया है, टीम में ऋषभ पंत और ऋद्धिमान साहा के रूप में दो विकेटकीपर का चुनाव किया गया है. पिछले कुछ सालों में पहली बार ऐसा हुआ है जब घरेलु सीरीज में भारतीय टीम ने दो विकेटकीपर रखे हो. अब ऐसे में सवाल यह है कि प्लेइंग इलेवन में किसको मौका दिया जाएगा.

फिलहाल भारतीय टीम के मुख्‍य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि साहा टीम के नंबर 1 विकेटकीपर हैं और पंत उनके बाद हैं. वैसे उन्होंने यह बयान वेस्टइंडीज दौरे पर भी दिया था, इसके बाद भी दोनों  टेस्ट मैच में एक में भी उनको खेलने का मौका नहीं दिया गया था, लेकिन इसके बाद भी पंत दोनों टेस्ट मैच में इस मौके को भुना नहीं पाए थे.

ऋद्धिमान साहा को मिलेगा मौका, कीपरिंग में पंत हैं कमजोर

ऋद्धिमान साहा

ऋषभ पिछले एक साल से भारतीय टीम का हिस्सा बने हुए हैं, लेकिन प्रसाद की बातों से ऐसे संकेत मिल रहे थे कि पंत को लेकर अब टीम प्रबंधन का धैर्य और भरोसा जवाब दे रहा है. एक तरफ पंत को धोनी का उतराधिकारी माना जाता है, लेकिन उनकी तकनीक में काफी कमियां हैं. जिसके कारण उन्होंने कई अहम कैच भी छोड़ दिए हैं.

इस मामले में साहा काफी आगे हैं. कीपिंग स्किल में वे देश के नंबर वन विकेटकीपर हैं. जब प्रसाद से पूछा गया कि पंत और साहा में उनकी पहली पसंद कौन है, तो उन्होंने बेझिझक बोला कि,

 “मेरा जवाब पहले वाला ही है. देखते हैं. निश्चित तौर पर शुरुआत ऋषभ के साथ होगी लेकिन हमें देखना होगा कि क्या टीम प्रबंधन भी यही सोचता है. उन पर छोड़ दीजिए. साथ ही भारत में खेलते हुए हमें अधिक कौशल वाला विकेटकीपर चाहिए, देखते हैं क्या होता है.’

बल्लेबाजी में ऋद्धिमान साहा पर भारी हैं पंत

रिषभ पंत

अभी तो बात हुई थी विकेटकीपरिंग कि लेकिन इसी के साथ अगर बात बल्लेबाजी की हो तो साहा के ऊपर पंत का पलड़ा भारी दिखता है. ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों ही दौरों पर पंत ने अपने बल्ले से शानदार पारी खेली है, और शतक भी लगाए हैं.

अब बात पंत के टेस्ट करियर की हो तो इन्होने अभी तक 11 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमे इन्होने 44.35 की औसत से 754 रन बनाए हैं. उनकी इस पारी में दो शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं.

अब बात अगर साहा की बल्लेबाजी की हो इन्होने 32 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमे इन्होने 30.63 की औसत से 1164 रन बनाए हैं इसमें 3 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं. धोनी के टीम में होने के कारण उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले, जिसके कारण 2010 में डेब्यू करने के बाद से 2015 तक वह सिर्फ 3 मैच खेल पाए थे.

Related posts