सर विवियन रिचर्ड्स का ये रिकॉर्ड, 30 साल बाद इस पाकिस्तानी दिग्गज ने तोड़ा था

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

30 साल बाद इस पाकिस्तानी दिग्गज ने तोड़ा सर विवियन रिचर्ड्स का ये रिकॉर्ड, जिसके पास भी आज तक नहीं पहुंच सके विराट, स्मिथ 

30 साल बाद इस पाकिस्तानी दिग्गज ने तोड़ा सर विवियन रिचर्ड्स का ये रिकॉर्ड, जिसके पास भी आज तक नहीं पहुंच सके विराट, स्मिथ

विश्व के महानतम बल्लेबाजों की अगर बात करें तो विवियन रिचर्ड्स का नाम सुनहरे अक्षरों में लिखा जाता है. उनके कई ऐसे रिकॉर्ड है जिनको तोड़ना कई खिलाड़ियों के लिए सपना है. यह दिग्गज खिलाड़ी अपने दौर में गेंदबाजों के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द साबित होता था. जब ये दिग्गज अपने पूरे फॉर्म में होता तो गेंदबाजों को इनसे पार पाना मुश्किल होता था.

साल 1976 ये साल इस खिलाड़ी के लिए सबसे  यादगार सालों में से एक था

साल 1976 ये साल इस खिलाड़ी के लिए सबसे  यादगार सालों में से एक था. इस साल इस खिलाड़ी ने गेंदबाजों के बीच अपने नाम की दहशत फैला रखी थी. इस साल इस खिलाड़ी ने  11 टेस्ट में सात शतक ठोक दिएं. 90.00 के शानदार औसत से 1710 रन बनाए. वो तो भला हो ग्रंथिमय बुखार का जिसकी वजह से ये  लार्ड्स टेस्ट नहीं खेल पाए वरना रिकॉर्ड और बेहतर होता. लेकिन इसकी कसर उन्होने ओवल में 291 रनों की पारी खेल कर पूरी की.

विवियन रिचर्ड्स
विवियन रिचर्ड्स

इस साल इस खिलाड़ी की फॉर्म ने इस महान खिलाड़ी को दिग्गज खिलाड़ियों के क्षेणी में ले आएं

अब बात साल 2006 की पाकिस्तान में खिलाड़ी हुआ करता था युसूफ योहाना नाम का. इस खिलाड़ी ने अपना धर्म बदलकर इस्लाम धर्म  अपनाया और मोहम्मद यूसुफ़ के नाम से पकिस्तान के लिए खेलने लगा. इस साल इस खिलाड़ी की फॉर्म ने इस महान खिलाड़ी को दिग्गज खिलाड़ियों के क्षेणी में ले आएं. क्या गजब का फॉर्म था इस साल इस खिलाड़ी का.ऐसा लगता था क्रिकेट की गेंद उन्हें फुटबॉल की गेंद की तरह दिख रही हो. पूरे साल अपनी बल्लेबाजी से गेंदबाजों के बीच कहर ढा दिया इस खिलाड़ी ने.

30 साल बाद इस पाकिस्तानी दिग्गज ने तोड़ा सर विवियन रिचर्ड्स का ये रिकॉर्ड, जिसके पास भी आज तक नहीं पहुंच सके विराट, स्मिथ 1

30 साल बाद टूटा रिकॉर्ड 

विवियन रिचर्ड्स का 1976  में बनाए गए एक साल में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड. 30 साल बाद इस खिलाड़ी ने  30 नवम्बर 2006 को तोड़ा. इस साल यूसुफ ने  1,788 रन बनाए. वो भी लगभग 100 की औसत से. इस साल गजब के फॉर्म में था यह खिलाड़ी. हर गेंदबाज जो इनके सामने गेंदबाजी करता था समझ नहीं पाता आखिर कहां गेंद डाले.

इस खिलाड़ी का अंत भी बहुत गलत ढंग से हुआ. ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान टीम की हार में पूछताछ के बाद. 10 मार्च 2010 को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा पाकिस्तान के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने से यूसुफ पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.लेकिन इतने महान खिलाड़ी के रिकॉर्ड को 30 साल बाद तोड़ना यूसुफ को एक दिग्गज खिलाड़ी बनाती हैं.

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें. साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपकों जल्दी पहुंचा सकें.

Related posts

Leave a Reply