खेल डेस्क, टीम इंडिया को अगले महीने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्रिकेट सीरीज खेलने ऑस्ट्रलिया रवाना होना है. इस सीरीज में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 के साथ ही वनडे मैच खेलने हैं.आगामी सीरीज के लिए अंदाजा लगाया जा रहा है की भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई 19 दिसम्बर को टीम इंडिया के खिलाडियों का ऐलान करने वाली है. 

12 जनवरी से शुरू हो रही सीरीज में दोनों टीमें पांच वनडे के साथ ही तीन टी-20 मुकाबले भी खेलेंगी. संभावनाएं हैं कि सीरीज में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ही होंगे. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले टी-20 और वनडे सीरीज के लिए इन संभावित नामों में से चुना जायेगा| यह चयन प्रक्रिया 19 दिसम्बर को होने वाली है| अब देखना ये है कि कौन हो सकते हैं ये संभावित खिलाडी जो बनायेंगे जगह-

1. महेंद्र सिंह धोनी:

रोल- कप्तान

क्यों: सबसे सफल कप्तान, बैट्समैन, विकेटकीपर, वर्ल्ड कप टी-20 तक कप्तान बनाए जाने का फैसला पहले से तय

2. विराट कोहली:

रोल- उप कप्तान

क्यों: मिडिल आर्डर के स्ट्रांग बैट्समैन, पिछले दो साल में टीम इंडिया के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए, भविष्य के कप्तान|

3. अजिंक्य रहाणे:

रोल– बैट्समैन

क्यों: मिडिल आर्डर के स्ट्रांग बैट्समैन, किसी भी हालत में पिच पर टिके रहने की क्षमता|

4. शिखर धवन:

रोल- ओपनिंग बैट्समैन

क्यों: तेज बैटिंग करने में माहिर, मौजूदा फॉर्म भी सपोर्ट में, लिमिटेड ओवर्स के लिए फिट खिलाड़ी|

 

5. सुरेश रैना:

रोल- ऑल राउंडर

क्यों: स्लॉग ओवर्स में तेज बल्लेबाजी करने की क्षमता, टी-20 के जबरदस्त बैट्समैन, अच्छे फील्डर और पार्ट टाइम बॉलर|

6. रोहित शर्मा:

रोल- बैट्समैन

क्यों: वनडे में दो बार दोहरा शतक लगाने वाले एक मात्र बल्लेबाज, लम्बे समय तक पिच पर टिके रहने की क्षमता|

7. रविन्द्र जडेजा:

रोल- ऑल राउंडर

क्यों: अच्छे फील्डर, तेज बैटिंग करने में सक्षम, धोनी के फेवरेट प्लेयर होने का मिल सकता है फायदा|

8. आर. अश्विन:

रोल- स्पिन बॉलर

क्यों: टीम इंडिया के सबसे बेहतरीन स्पिन गेंदबाज. हाल ही में समाप्त हुई अफ्रीका सीरीज में अफ़्रीकी बल्लेबाजों की कमर तोड़ कर रख दी थी. 

9. मोहम्मद शमी:

रोल- फ़ास्ट बॉलर

क्यों: विश्व कप में इंडिया के तरफ से हाईएस्ट विकेट टेकर|

10. इशांत शर्मा:

रोल- फ़ास्ट बॉलर

क्यों: मेन फ़ास्ट बॉलर, हालिया फॉर्म शानदार, अनुभवी खिलाड़ी, स्विंग कराने में माहिर|

11. अक्षर पटेल:

रोल- स्पिन बॉलर

क्यों: शानदार फॉर्म, अगस्त में साउथ अफ्रीका-ए और ऑस्ट्रेलिया-ए के खिलाफ 22 विकेट लिए|

12. अंबाती रायडू:

रोल- बैट्समैन

क्यों: 31 वनडे मैच का अनुभव, शानदार फॉर्म, मिडिल आर्डर संभालने की ताकत|

13. अमित मिश्रा:

रोल- स्पिन गेंदबाज

क्यों: श्रीलंका में जबरदस्त गेंदबाजी, बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए सबसे ख़तरनाक|

14. भुवनेश्वर कुमार:

रोल-तेज गेंदबाज

क्यों: बॉल स्विंग कराने में सक्षम, हालिया फॉर्म बहुत अच्छा नहीं, पर चयनकर्ताओ और कप्तान का सपोर्ट|

15. उमेश यादव:

रोल-तेज गेंदबाज

क्यों: लाइन लेंथ के अनुसार गेंद डालते हैं, रन रोक कर विरोधी टीम पर बढ़ाते हैं प्रेशर|

16. मोहित शर्मा:

रोल-तेज गेंदबाज

क्यों: पार्ट टाइम गेंदबाज, स्विंग कराने में सक्षम, कप्तान धोनी का सपोर्ट|

17. मनीष पण्डेय:

रोल-बल्लेबाज

क्यों: टी-20 के जबरदस्त बैट्समैन, घरेलू टी-20 में लगा चुके हैं 1 शतक और 11 अर्द्धशतक|

18- हरभजन सिंह 

क्यों- दक्षिण अफ्रीका सीरीज में वापसी की थी. चयनकर्ता एक और मौका दे सकते हैं. 



  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    DDvsKXIP: आँकड़ों के आधार पर जाने किसका पलड़ा हैं भारी और पिच किसे करेगी...

    आईपीएल 2018 का 22वां मैच किंग्स इलेवन पंजाब की टीम और दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के बीच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम पर खेला जाना...

    धोनी ने कभी इस खिलाड़ी के लिए छोड़ दिया था होटल, अब चूका रहा...

    दो साल बाद आईपीएल में वापसी करने वाली चेन्नई सुपरकिंग्स पूरी तरह से फॉर्म में नज़र आ रही है. मुंबई के खिलाफ पहला ही...

    अंतिम ओवर में धोनी के इस सलाह की वजह पलट गया मैच, दीपक चाहर...

    आईपीएल में दो साल के बाद वापसी करने वाली टीम चेन्नई सुपरकिंग्स पूरे दमखम के साथ उतरी है। लगातार टीम का बेहतरीन प्रदर्शन जारी...

    IPL 2018: ये रहे आईपीएल के अभी तक के इतिहास के सभी विजेता टीमों...

    आईपीएल का जूनून कुछ अलग ही होता है. हर भारतीय क्रिकेट प्रेमी के दिलो दिमाग पर आईपीएल का जादू छा जाता है. 2008 में...

    IPL 2018: ये रही आईपीएल 11 की रनों के हिसाब से सबसे बड़ी जीत,...

    आईपीएल का जूनून कुछ अलग ही होता है. हर भारतीय क्रिकेट प्रेमी के दिलो दिमाग पर आईपीएल का जादू छा जाता है. 2008 में...