क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जो सचिन तेंदुलकर को आज तक नहीं मिले

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जिससे आज तक सचिन तेंदुलकर को नहीं किया गया सम्मानित 

क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जिससे आज तक सचिन तेंदुलकर को नहीं किया गया सम्मानित

क्रिकेट का भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर एक वो शख्सियत हैं। जिनकी तरह हर खिलाड़ी बनना चाहता हैं। उन्होंने क्रिकेट में अपने प्रदर्शन से कई मुकाम हासिल किये हैं। जिसमें से कुछ तो ऐसे हैं कि क्रिकेट जगत का कोई भी खिलाड़ी अभी तक इस मुकाम तक नहीं पहुंच पाया हैं।

क्रिकेट की दुनिया में अपना बेहतरीन योगदान देने के लिए इस खिलाड़ी को बड़े -बड़े पुरस्कारों जैसे भारत रत्न, पद्मश्री, पद्म विभूषण, राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन पुरस्कार, विस्डेन क्रिकेटर ऑफ द ईयर आदि से नवाजा भी जा चुका हैं। इस बेहतरीन खिलाड़ी ने अभी तक टेस्ट मैचों के दौरान 15921 रन अपने नाम किये हैं।

इतना ही नहीं इन्होंने वनडे मैचों के दौरान भी 18,426 रन अपने नाम पर दर्ज कराए हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में इस खिलाड़ी के नाम पर 100 शतक का भी अनोखा रिकॉर्ड हैं। इन सभी बेहतरीन रिकार्ड्स बनाने के बाद भी तीन सम्मान ऐसे हैं जो अभी तक सचिन को नहीं मिल पाए हैं। तो आइए डालते हैं एक नज़र।

लॉर्ड्स की घंटी

क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जिससे आज तक सचिन तेंदुलकर को नहीं किया गया सम्मानित 1
एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर ने 2007 में लॉर्ड्स में पांच मिनट की घंटी बजाने की एक परंपरा पेश की थी। बता दे यह घंटी लॉर्ड्स पवेलियन के बॉलर्स बार के बाहर बनी हुई हैं। यह घंटी खेल के प्रांरभ को सूचित करने के लिए बजाई जाती हैं। इतना ही नहीं टेस्ट मैच की सुबह इसे बजाने के लिए आमंत्रित किया जाना ही एक बहुत बड़ी गर्व की बात हैं।

यह सम्मान भारतीय खिलाड़ियों में से संजय मांजरेकर, राहुल द्रविड़, कपिल देव, सौरव गांगुली, दिलीप वेंगसरकर और सुनील गावस्कर को दिया जा चुका हैं। वैसे सचिन को यह घंटी बजाने के लिए आमंत्रित किया गया था, लेकिन इस खेल को बारिश के चलते सुबह ही रोक दिया गया था।

आईसीसी हॉल ऑफ फेम

क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जिससे आज तक सचिन तेंदुलकर को नहीं किया गया सम्मानित 2
आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ फेम क्रिकेट का ये अनोखा खिताब खिलाड़ी के शानदार इतिहास और उसके सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ -साथ उपलब्धियों को दर्शाता है। आईसीसी ने इसे 2009 में लॉन्च किया था। भारतीय खिलाड़ियों में से यह खिताब बिशन सिंह बेदी, कपिल देव , राहुल द्रविड़, सुनील गावस्कर और अनिल कुंबले को दिया जा चुका हैं।

वैसे इस खिताब को दो भारतीय से ज्यादा अन्य देशों के खिलाड़ी ने अपने नाम किये हैं। 84 खिलाड़ियों में से 15 खिलाड़ी ऐसे हैं। जो इस लिस्ट में विंडीज, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से नहीं हैं। यह खिताब आईसीसी के नियमों के मुताबिक उसी खिलाड़ी को दिया जाता हैं, जिसने टेस्ट या वनडे इंटरनेशनल में 8000 से अधिक रन और 20 शतक अपने नाम किये हो। वैसे सचिन इस खिताब को पाने के काबिल हैं, क्योंकि उन्होंने वनडे में 18,426 रन और टेस्ट में 15, 921 अपने नाम किये हैं, लेकिन क्रिकेट से सन्यास लिए हुए सचिन को अभी 4 साल पुरे नहीं हुए थे, इसलिए भारत के राहुल द्रविड़ ने इस साल इस पर कब्जा जमाया, तो ये सम्भव है अगले बार सचिन को इससे सम्मानित किया जाए.

लॉर्ड्स के ऑनर बोर्ड पर नाम

क्रिकेट जगत के 3 बड़े सम्मान जिससे आज तक सचिन तेंदुलकर को नहीं किया गया सम्मानित 3
एक पारी में पांच विकेट चटकाकर या शतक लगाकर एक बेहतरीन खिलाड़ी इंग्लिश क्रिकेट के सबसे फेमस ऑनर्स बोर्डों में से एक के लिए अपना रास्ता खोल देता है। बता दे ये बोर्ड लॉर्ड्स क्रिकेट स्टेडियम के ‘होम’ और ‘अवे’ ड्रेसिंग रूम के पास लगा हुआ हैं।

यह बोर्ड लॉर्ड्स के लंबे इतिहास में से बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले और साथ ही विस्फोटक गेंदबाजी करने वाले खिलाड़ियों की यादें जेहन में ताज़ा करता हैं। ये भारतीय खिलाड़ी जिसने वनडे और टेस्ट मैचों में बेहतरीन बालेबाजी की हैं। उनका भी इस बोर्ड पर नाम नहीं दिया गया हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह यह हैं कि सचिन ने एक भी शतक लॉर्ड्स में नहीं लगाया हैं।

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें और साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपको जल्दी पहुंचा सकें।

 

Related posts

Leave a Reply