टिम सिफर्ट ने बताया, क्यों अंतिम ओवरों में जसप्रीत बुमराह के खिलाफ बल्लेबाजी करना हैं मुश्किल 1

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह शानदार गेंदबाजी कर रहे हैं। श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज में उन्होंने चोट के बाद वापसी की थी। विश्व कप के बाद वेस्टइंडीज दौरे पर उन्होंने टेस्ट मैच खेला था लेकिन इसके बाद से टीम से बाहर चल रहे थे। वापसी के बाद से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में ही वह सिर्फ महंगे रहे थे।

टिम सिफर्ट ने की तारीफ

टिम सिफर्ट ने बताया, क्यों अंतिम ओवरों में जसप्रीत बुमराह के खिलाफ बल्लेबाजी करना हैं मुश्किल 2

जसप्रीत बुमराह का यह पहला न्यूजीलैंड दौरा है लेकिन पहले दोनों टी-20 मैचों में उन्होंने शानदार गेंदबाजी की है। दोनों मैचों के अंतिम ओवर में उन्होंने बल्लेबाजों को रन बनाने का कोई मौका नहीं दिया। कीवी विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सिफर्ट ने उनकी गेंदबाजी पर कहा

“यहां तक कि पहले गेम में बुमराह ने धीमी गेंदें फेंकी का बाहर फेंका था। आम तौर पर, अंतिम ओवर में गेंदबाज धीमी गेंद डालने के साथ उनसे विकेट पर रखते हैं। वह चीजों को बहुत बदल देते हैं और खेलने के लिए कठिन होता है। जब गेंद पिच में फंसने लगती है तो यह और भी मुश्किल हो जाता है। कई बार आपको बल्लेबाज के रुप में विकेट से हटना भी पड़ता है।

टिम सिफर्ट ने बताया, क्यों अंतिम ओवरों में जसप्रीत बुमराह के खिलाफ बल्लेबाजी करना हैं मुश्किल 3

गेंदबाजों का बचाव किया

टिम सिफर्ट ने बताया, क्यों अंतिम ओवरों में जसप्रीत बुमराह के खिलाफ बल्लेबाजी करना हैं मुश्किल 4

टिम सेफर्ट ने अपने गेंदबाजों का बचाव किया है। सीरीज के पहले मैच में 203 रन बनाने के बाद भी भारतीय टीम ने एक ओवर बाकि रहते मैच को अपने नाम कर लिया था। दूसरे मैच में कीवी टीम 132 रन ही बना पाई और भारत ने आसानी से मैच जीत लिया। गेंदबाजों का बचाव करते हुए टिम ने कहा

“ईमानदार से कहूं तो पहले गेम में वे 110-1 थे और उनके हाथ में विकेट थे। हमने उस पहले गेम में बहुत बुरी तरह से गेंदबाजी नहीं की। दूसरे गेम में हमें केवल 130 मिले और ईडन पार्क में गेंदबाजी करना कठिन है। 170 का लक्ष्य ध्यान में था, लेकिन एक बार जब आप बोर्ड पर 130 होते हैं, तो ईडन पार्क में मजबूत टीम के खिलाफ गेंदबाजी मुश्किल हो जाती है। लेकिन हमारे स्पिनरों शानदार खेल दिखाया लेकिन अच्छी गेंदें बाउंड्री पर गई हैं।”