अब खुद हरमनप्रीत ने बताया भारत के अलावा किसके लिए उन्होंने खेला ये तूफानी पारी 1

आईसीसी महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय महिला क्रिकेट टीम की जीत में अहम भूमिका निभाने वालीं हरफनमौला खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर का कहना है कि उन्हें इस मैच में खुद को साबित करना था। वेबसाइट ‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो डॉट कॉम’ की रिपोर्ट के अनुसार, इस मैच में हरनप्रीत की 115 गेंदों पर खेली गई 171 रनों की बेहतरीन पारी के दम पर भारतीय टीम ने आस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराकर दूसरी बार टूर्नामेंट के फाइनल में कदम रखा।

भारतीय टीम का सामना रविवार को लंदन के द लॉर्ड्स मैदान पर खेले जाने वाले खिताबी मुकाबले में इंग्लैंड से होगा।   इन 2 दिग्गज खिलाड़ियों को भारतीय टीम में नहीं देखना चाहते है विराट कोहली, शास्त्री के साथ मिलकर करेंगे बाहर: सूत्र

मैच के बाद अपने एक बयान में हरमनप्रीत ने कहा, “इस पूरे टूर्नामेंट में मुझे बल्लेबाजी का अवसर नहीं मिला था। इस सेमीफाइनल मैच में मुझे जब यह मौका मिला, तो मेरा लक्ष्य खुद को साबित करना था। भगवान का शुक्र है कि जो मैंने सोचा वही हुआ। मिताली राज, दीप्ति शर्मा और वेदा कृष्णमूर्ति ने भी अच्छा प्रदर्शन किया।”

हरमनप्रीत ने कहा, “इस मैच में मेरी योजना प्रतिद्वंद्वी टीम की गेंदों पर नजर रख, उन पर अच्छे शॉट खेलने की थी। मैंने दीप्ति से कहा कि जितनी हो सके अदला-बदली होती रहे। मैंने कहा कि उन्हें अधिक दबाव लेने की जरूरत नहीं है और मुझे स्ट्राइक का मौका दें, बाकी जिम्मेदारी मेरी। उन्होंने बहुत अच्छा काम किया।”  धोनी और युवराज की लगातार नाकामयाबी के बाद इस स्टार खिलाड़ी ने खुद कहा मुझे दो मौका नहीं होगी मध्यमक्रम में परेशानी