अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एशेज सबसे पारंपरिक और बढ़िया प्रतिद्वंद्विता है . एशेज ट्रॉफी जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड टीम के बीच टेस्ट मैच होता है. इस प्रतियोगिता के बारे में सबसे शानदार पहलू बोरियत का एक भी क्षण न होना है. ये एक दिलचस्प प्रतियोगिता कही जा सकती है . एशेज 2015 होने में मुश्किल से दस दिन है और हर बार की तरह इसे लेकर माहौल बड़ा ही रोमांचक होता जा रहा है.

बहरहाल इस लेख में हम  2005 के बाद से शीर्ष 6 एशेज टेस्ट पर एक नजर डालेंगे..

1. 2005- 2 टेस्ट – एजबेस्टन , बर्मिंघम
एशेज खेल के इतिहास में यह सबसे अच्छा एशेज टेस्ट माना जा सकता है. ऑस्ट्रेलिया के इंग्लैंड पर 1-0 की बढ़त के साथ दूसरे टेस्ट की ओर बढ़ रहा था. पहले टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने ग्लेन मैकग्रा की शानदार पारी के साथ आसानी से जीत हासिल की थी. दूसरा टेस्ट मैच शुरू होने से पहले ही ग्लेन मैकग्रा ने अभ्यास मैच के दौरान खुद को चोटिल करलिया जिस वजह से वे मैच से बाहर हो गए. यह सबके लिए एक गंभीर झटका था. रिकी पोंटिंग ने पहले बल्लेबाजी करने के लिए इंग्लैंड को आमंत्रित किया और इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों ने बढ़िया आगमन किया. स्ट्रॉस और ट्रेस्कोथिक ने पहले विकेट के लिए एक साथ 112 रन बनाये .फ्लिंटॉफ ने 62 गेंदों पर 68 रन बनाकर शानदार दस्तक दी.  इंग्लैंड की पारी कम से कम 80 ओवर में , 407 पर समाप्त हो गयी.ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली पारी में 308 रन ही बना पाई.  इंग्लैंड की दूसरी पारी बुरी स्थिति में शुरू हुई वे 31-4 पर थे .एक बार फिर, यह  फ्लिंटॉफ था जिसने अपनी टीम को बुरे हालात से बचाया. उन्होंने 73 की पारी खेली और ऑस्ट्रेलिया को 282 का लक्ष्य सौंप दिया. फिर फ़्लिंटॉफ़ ने अपनी बेहतरीन गेंदबाज़ी से केहर बरसा दिया , आस्ट्रेलियाई 175-8 पर थे लेकिन तब वार्न और ली ने नौवें विकेट के लिए एक बढ़िया साझेदारी का मंचन किया.62 रनों की अभी भी जरुरत थी लेकिन वार्न ने उम्मीद नहीं खोई थी और जब सिर्फ  3 रन की जरूरत थी तब स्टीव हार्मिसन ने कास्प्रोविच के लिए एक खतरनाक बाउंसर गेंद फेंकी , इस दौरान कास्प्रोविच सच आउट हो गए और टीम हार गई.

2. 2006/07 – 2 टेस्ट – एडिलेड
इंग्लैंड ने पहला टेस्ट मैच हारने के बाद , एडिलेड ओवल में पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. पॉल कॉलिंगवुड और केविन पीटरसन एक साथ 310 रन की शानदार साझेदारी निभाई . इंग्लैंड, कोलिंगवुड के 206 और पीटरसन के 158 रनों के सहयोग से  551 का स्कोर करने में सफल रहा. जवाब में ऑस्ट्रेलियाई खिलाडी पोंटिंग और क्लार्क का बढ़िया प्रदर्शन रहा और टीम ने कुल 513 स्कोर किया. स्ट्रॉस के शीर्ष 34 रन के साथ इंग्लैंड सिर्फ 129 पर सिमट गया. अंतिम दिन ड्रॉ होने की सम्भावना थी, लेकिन आस्ट्रेलियाई टीम ने इसे एक जीत में बदल दिया.  कम से कम 40 ओवर में 168 की ज़रूरत थी और लक्षय तक पहुँचते पहुँचते ऑस्ट्रेलियाई 4 विकेट खो चुके थे. इस खेल इंग्लैंड  इस हद तक हतोत्साहित हुआ कि वे श्रृंखला में फिर वैसा विश्वास हासिल नहीं कर सका .

3. 2009 – 5 वीं टेस्ट – ओवल
सरिस की शुरुवात में टीमें 1 -1 पर थी. इंग्लैंड को ख़िताब हासिल करने के लिए क्रम में किसी भी कीमत पर इस खेल को जीतने की जरूरत थी. इयान बेल के 72 रन के रूप में इंग्लैंड 332 की एक सभ्य पहली पारी स्कोर करने में सफल रहा. जबकि ऑस्ट्रेलिया 160 पर ही बोल्ड आउट हो गया. दूसरी पारी में इंग्लैंड के नवोदित जोनाथन ट्रॉट ने शानदार शतक जड़ा. 546 का पीछा करने उतरी आस्ट्रेलियाई टीम ने सकारात्मक रूप से शुरुवात की . लेकिन तब ग्रीम स्वान की ऑफ स्पिन गेंदबाज़ी ने विरोधियों को धो डाला और टीम 348 पर सिमट गयी . इंग्लैंड ने अपने गेंदबाज़ो के दम पर ख़िताब वापिस पा लिया था.

4. 2010/11 – 1 टेस्ट – गाबा , ब्रिस्बेन
2010/11 की एशेज श्रृंखला  कुछ बढ़िया तरीके से शुरू हुआ ,इंग्लैंड पहले बल्लेबाजी करते हुए केवल 260 रन ही बना सका. कुक ने 67 रनों की पारी खेली . वहीँ हसी और हैडिन के बढ़िया सहयोग से टीम 481 के स्कोर पर पहुंची . एंड्रयू स्ट्रॉस और एलेस्टर कुक ने 188 की भागीदारी निभाई. स्ट्रॉस 110 पर आउट हो गए जबकि कुक नियंत्रित आक्रामकता के साथ खेला और 235 रन बनाये. ट्रॉट135 पर नोट आउट रहे और इंग्लैंड का अंतिम स्कोर 517-1 पर पहुंचा. लेकिन अंततः खेल ड्रा के रूप में समाप्त हुआ.

5. 2013 – 1 टेस्ट – ट्रेंट ब्रिज , नॉटिंघम
श्रृंखला के पहले ही दिन इंग्लैंड पहले बल्लेबाजी करते हुए 215 पर सिमट गया. उसके बाद आस्ट्रेलियाई भी 117-9 की बुरी स्थिति में थे लेकिन फिर फिलिप ह्यूजेस और नंबर 11 पर बल्लेबाज़ एश्टन अगर ने एक शानदार पारी खेली , अगर दुर्भाग्य से 98 पर आउट हो गया था लेकिन दोनों की जोड़ी ने कुल 163 रनों का सहयोग दिया. हालाँकि दूसरी पारी में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 311 रनों का लक्ष्य दिया. अभी भी  हाथ में सिर्फ एक विकेट के साथ और 80 रनों की जरूरत के साथ, हैडिन ने अपनी ओर से पूरी कोशिश की. पैटिनसन के साथ हैडिन ने 65 रनों की साझेदारी की . इस दौरान इंग्लैंड ने 14 रनों से मैच में जीत हासिल की. जेम्स एंडरसन अकेले ही इंग्लैंड के लिए खेल जीता और मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया.

6. 2013/14 – 1 टेस्ट – गाबा , ब्रिस्बेन
इस मैच के दौरान ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी की .मिशेल जॉनसन जब ब्रैड हैडिन के साथ शामिल हुए तब मेजबान टीम 132-6 थी . जॉनसन और हैडिन ने एक साथ 114 रनों की साझेदारी की और ऑस्ट्रेलिया टीम अंत में 295 पर बर्खास्त हो गई. हैरिस और जॉनसन के इंग्लैंड पर हावी होने से पहले इंग्लैंड 81-2 पर अच्छा चल रहा था. 150 किमी / घंटा की गति से अधिक गेंदबाजी करते हुए जॉनसन आक्रामक रूप में दिखा. इंग्लैंड की टीम 136 पर आउट हो गई . दूसरी पारी में वार्नर और क्लार्क से शतक की मदद से ऑस्ट्रेलिया  401 पर पहुंची और इंग्लैंड को 561 का लक्ष्य दिया. ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ी के आगे इंग्लैंड के बल्लेबाज़ ढेर हो गए और टीम 179 पर ही सिमट गई. इस दौरान ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को ध्वस्त कर जीत हासिल की.



  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    आईपीएल फाइनल से पहले धोनी ने देश के युवा तेज गेंदबाजों के लिए बोली...

    आईपीएल 11 का फाइनल मैच हैदराबाद और चेन्नई के बीच खेला जाएगा. वही इस मैच से पहले चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने...

    टी-20 क्रिकेट को और ज्यादा रोचक बनाने के लिए डीन जोंस ने दिया एक...

    विश्व क्रिकेट में जब से टी-20 क्रिकेट ने अपना कदम रखा है तब से इसकी रोचकता ने हर किसी को अपने आगोश में ले...

    इंग्लैंड के निदेशक एंडी फ्लावर ने बताये आईपीएल में खेलने के फायदे और नुकसान

    आईपीएल दुनिया की सबसे लोकप्रिय टी-20 लीग है. आईपीएल में दुनियाभर के खिलाड़ी खेलते है. आईपीएल 2018 का फाइनल रविवार 27 मई को चेन्नई...

    सीएसके के दिग्गज खिलाड़ी ने दिलाया विश्वास, फाइनल जीतने पर धोनी लगाएंगे ठुमके

    इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन का समापन होने में अब एक कदम बाकी है। इस आईपीएल सीजन का खिताबी मुकाबला रविवार को मुंबई...

    शाहरुख खान अगले आईपीएल से पहले इन तीन खिलाड़ियों को कर सकते है रिलीज

    केकेआर की टीम आईपीएल 2018 से बाहर हो चुकी है. शुक्रवार को केकेआर का खिताब जीतने का सपना सनराइजर्स हैदराबाद ने तोड़ दिया था. आज...