शीर्ष अन्तराष्ट्रीय क्रिकेटर्स और उनके पुराने पेशे | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

शीर्ष अन्तराष्ट्रीय क्रिकेटर्स और उनके पुराने पेशे 

शीर्ष अन्तराष्ट्रीय क्रिकेटर्स और उनके पुराने पेशे

क्रिकेट के आधुनिक प्रारूप ने कई मौके व्यक्तिगत तौर पर खोल दिए हैं। पैसो से लबरेज टी-20 लीग ने तूफान खड़ा कर दिया है और कई देशों के खिलाड़ी दुनियाभर की अलग-अलग टी-20 लीग का हिस्सा हैं। टी-20 विशेषज्ञों के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल), बिग बैश लीग (बीबीएल) और कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) जैसे लीग मौकों का गढ़ बन चुकी हैं।

शीर्ष अन्तराष्ट्रीय क्रिकेटर्स और उनके पुराने पेशे 1

किसी भी खिलाड़ी के लिए यह लीग इसलिए महत्‍वपूर्ण बन गई हैं क्‍योंकि उन्‍हें कम समय में ज्यादा पैसा मिलता है। यह मानव रूचि है। प्रतिभाशाली क्रिकेटर जो दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करता है, वह ज्यादा रकम पाने का हक भी रखता है। इन टी-20 लीग से मनोरंजक क्रिकेटरों को पैसा मिल जाता है।

आधुनिक क्रिकेट में विज्ञापन भी एक महत्‍वपूर्ण फैक्‍टर बन गया है। क्रिकेटर कुछ विज्ञापन शूट करते हैं और स्‍टार्स बन जाते हैं। शाहिद अफरीदी का ही उदाहरण ले लीजिए, वह कई ब्रांड के चेहरे बने हुए हैं। बूम-बूम का पूरा पोर्टफोलियो तैयार है। इससे उनकी काफी कमाई हो जाती है। हालांकि कुछ वर्ष पहले क्रिकेटरों के पास कमाई का कोई अधिक जरिया नहीं था। इसलिए कुछ क्रिकेटरों के वैकल्पिक या पुराने पेशे रहे हैं।

आइए नजर डालते हैं कुछ क्रिकेटरों के पुराने पेशों पर-

मिचेल जॉनसन-

बल्लेबाजो के लिए खौफनाक रहे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जॉनसन क्रिकेटर बनने से पहले ट्रक ड्राइवर थे। ऑस्ट्रेलिया के सफलतम गेंदबाजों में से एक बनकर सन्यास लेने वाले जॉनसन की कमाई ट्रांसपोर्ट के माध्‍यम से होती थी।

शेन बांड-

बांडका करियर चोट से काफी प्रभावित रहा। हालांकि वह न्यूज़ीलैंड के प्रमुख तेज गेंदबाज बने रहे। बांड का सामना करना आसान नहीं था, उनकी धारदार गेंदें बल्लेबाज को थर्राती थी। हालांकि क्रिकेटर बनने से पहले बांड न्यूज़ीलैंड पुलिस में काम करते थे। उन्होंने 1999-2000 में पुलिस ट्रेनिंग भी ली।

नाथन ल्योन-

ऑस्ट्रेलिया के सफलतम ऑफ स्पिनर लियोन पहले पिच क्यूरेटर थे। पिच को लेकर उनकी समझ शानदार है। क्यूरेटर के बाद ल्योन एडिलेड ओवल में ग्राउंड्समैन बने।

ब्रेड हॉज-

अगर किसी क्रिकेटर के साथ अनलकी शब्द जोड़ना चाहे तो ब्रेड हॉज उसके लिए उपयुक्त हैं। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने हर मौके पर प्रभावित किया, लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें हमेशा नजरअंदाज किया। क्रिकेटर बनने से पहले हॉज पेट्रोल पंप पर अटेंडेंट थे।

इयान चैपल-

ऑस्ट्रेलिया के सबसे विवादित कप्तानो में से एक चैपल क्रिकेटर बनने से पहले पेशेवर बेसबॉल खिलाड़ी थे। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की कुछ बेसबॉल लीग में हिस्सा भी लिया था।

ड्वेन लीवरलॉक-

बरमूडा के इस खिलाड़ी को कौन भूल सकता है? वजनदार क्रिकेटर ने 2007 विश्‍व कप में रॉबिन उथप्पा का स्लिप में एक हाथ से कैच पकड़कर सुर्खियां बटोरी थी। लीवरलॉक पहले पुलिस में काम करते थे। इससे पहले वह बरमूडा में वेन ड्राइवर थे।

दीपक चौदस्मा-

दीपक ने केन्या का दो बार विश्वकप में प्रतिनिधित्व किया। पूर्व केन्याई ओपनर पेशेवर टेबल टेनिस खिलाड़ी भी रहे हें। चौदस्मा टेबल टेनिस खिलाड़ी के रूप में कई प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भाग ले चुके हैं।

जो डावेस-

डावेस को 2012 से मध्‍य 2014 तक गेंदबाजी कोच के रूप में याद किया जाता है। क्वींसलैंड में पला-बढ़ा यह कोच पहले पुलिस में काम किया करता था।

मोहम्मद तौकीर-

19 साल क्रिकेट खेलने की तपस्या तब सफल हुई जब 2015 विश्व कप में तौकीर ने यूएई का प्रतिनिधित्व किया। तौकीर खेलने के साथ-साथ बैंकर भी हैं।

एबी डी’विलियर्स-

इसमें कोई संदेह नहीं कि डीविलियर्स मल्टी टेलेंटेड खिलाड़ी हैं। उन्होंने सिर्फ क्रिकेट में ही नहीं बल्कि अन्य कई खेलों में दक्षिण अफ्रीका का प्रतिनिधित्व किया है। डीविलियर्स ने अंडर-19 बैडमिंटन चैंपियनशिप, नेशनल हॉकी और फुटबॉल टीमों का भी प्रतिनिधित्व किया है। वह जूनियर रग्बी टीम के कप्तान भी रहे हैं।

अरशद खान-

पूर्व पाकिस्तानी  स्पिनर खान अब सिडनी में टैक्सी चलाते हैं। शोएब मलिक और मोहम्मद हफीज से कई अधिक गुणी गेंदबाज थे।

एमएस धोनी-

भारत के सफलतम कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कहानी भी बड़ी नाटकीय रही हैं। अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का प्रतिनिधित्व करने से पहले धोनी टीटीई (TTE) थे। उन्होंने दो वर्ष नौकरी भी की। वह खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर कार्यरत थे।

Related posts