IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 1

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का यह 11वां सीजन शुरू होने जा रहा है। इस बार इस आईपीएल में सिर्फ एक विदेशी खिलाड़ी कप्तान है बाकी सभी भारतीय खिलाड़ी ही कप्तानी करते हुए नजर आने वाले है। कप्तानी करना जितना लोग सोचते होंगे कि आसान है उतनी आसान नहीं होती है। कप्तान बनने के बाद खिलाड़ी पर बहुत दबाव बढ़ जाता है और उसे दबाव में खेलना पड़ता है।

इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में काफी मैच खेलकर भी सबसे ज्यादा हार झेलने के मामले में कोई और नहीं बल्कि भारत की तरफ से इस मामले में पूर्व कप्तान और कोलकाता नाईट राइडर्स तथा पुणे वॉरियर्स की कप्तानी कर चुके सौरव गांगुली है। गांगुली ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए तो बहुत अच्छी कप्तानी की थी लेकिन आईपीएल में फ्लॉप रहे थे जबकि लिस्ट में सबसे ऊपर केविन पीटरसन है।

तो इस बार हम बात करने वाले है आईपीएल के सबसे खराब कप्तानों की

1) केविन पीटरसन

इंग्लैंड के दिग्गज क्रिकेटर केविन पीटरसन को भला कौन भूल सकता है। हाल ही में इन्होंने सभी क्रिकेट फोरमैट में संन्यास ले लिया है और सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव है। अगर इनके आईपीएल कैरियर पर नजर डालें, तो इन्होंने आईपीएल में कुल 17 मैचों में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी की थी जिसमें इन्होंने अपनी टीम को महज 3 मैच ही जीता पाए थे, जबकि 14 में हार मिली थी इस कारण जीत प्रतिशत सिर्फ 17.64 रहा था।

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 2

1) कुमार संगकारा

कुमार संगकारा जिन्होंने अपनी टीम श्रीलंका के लिए तो बहुत अच्छी कप्तानी की थी लेकिन आईपीएल में ये सबसे खराब कप्तानों की सूची में पहले पायदान पर बने हुए है। कुमार संगकारा ने आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब, डेक्कन चार्जर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के लिए क्रिकेट खेला है।

इस दौरान इन्होंने 47 मुकाबलों में कप्तानी की है, जिसमें से महज 15 मैच ही जीता पाए थे जबकि 2 टाई हुए और 30 में हार हाथ लगी थी। इस प्रकार इनका जीत प्रतिशत महज 34.04 रही है जो कि किसी भी कप्तान से ज्यादा है जिन्होंने इतने ज्यादा मैच खेले है।

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 3

2) माहेला जयवर्धने

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 4

वहीं एक और शानदार दिग्गज कप्तान रह चुके माहेला जयवर्धने भी आईपीएल में एक सफल कप्तान नहीं बन पाए थे। जयवर्धने ने भी एक से ज्यादा टीमों के लिए आईपीएल खेला था। इन्होंने आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब, कोच्ची टस्कर्स केरल और दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए कप्तानी की है, जिसमें बहुत बुरी तरह से असफल रहे है।

इन्होंने कुल 30 मैचों में कप्तानी करते हुए 10 में जीत दिलवा पाए थे, वहीं 19 में हार मिली थी जबकि एक मैच टाई रहा था। इस प्रकार इनका जीत का प्रतिशत 35.0 रहा था।

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 5

3) शेन वॉटसन

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शेन वॉटसन भी इसी कड़ी के अगले खिलाड़ी है। शेन वॉटसन ने आईपीएल में प्रदर्शन तो बहुत अच्छा किया है और कई कारनामे भी अपने नाम किये है, लेकिन कप्तानी के रूप में इन्हें भी बाकी खिलाड़ियों की तरह निराशा ही हाथ लगी है।

आईपीएल में ये अभी राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेल चुके है, जिसमें इन्होंने 24 मुकाबलों में कप्तानी की है, लेकिन इसमें 8 मैच ही अपनी टीम को जीता पाए थे और 13 में हार मिली थी और 2 मैच टाई रहे थे, इस प्रकार इनका जीत का प्रतिशत 39.13 रहा है।

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 6

4) सौरव गांगुली

कोलकाता नाईट राइडर्स और पुणे वॉरियर्स इंडिया की कप्तानी कर चुके सौरव गांगुली जिनके आईपीएल का कैरियर बहुत ही खराब रहा था जिसे चाहे बल्लेबाजी के नजरिये से देखें या कप्तानी के, दोनों ही तरफ से ये फ्लॉप रहे थे।

इन्होंने कुल 42 मुकाबलों में टीम की कप्तानी की थी, जिसमें इन्होने महज 17 में जीत दिलवाई थी, जबकि 25 मैच हारे थे, इस कारण इनका जीत का प्रतिशत 40.47 रहा था।

IPL 2018: ये है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल लेकिन आईपीएल के सबसे असफल कप्तान 7

इस प्रकार इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में ये चार खिलाड़ी ही सबसे खराब कप्तान रहे है। इस तरह आपको बता दें कि आईपीएल का 11वां सीजन कुछ ही दिनों में शुरू होने वाला है और इसका पहला मुकाबला पूर्व चैम्पियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच होने वाला है जो मुंबई के वानखेड़े क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा।

RAJU JANGID

क्रिकेट का दीवाना हूँ तो इस पर लिखना तो बनता है।

Leave a comment