ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए 

ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे पहले टेस्ट में भारतीय टीम ने मजबूत पकड़ बना ली है. भारतीय टीम को जीत के लिए बस 6 विकेट की जरूरत है. ऑस्ट्रेलिया कि ओर से ट्रेविस हेड और शॉन मार्श अभी बल्लेबाजी कर रहे हैं. मैच के बाद ट्रेविस हेड ने भारतीय टीम के बल्लेबाज चतेश्वर पुजारा की जमकर तारीफ की.

चेतेश्वर पुजारा की पारी ने दोनों देशों के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट में उदाहरण पेश किया है

ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए 1

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ट्रेविस हेड का मानना है कि भारतीय टेस्ट टीम के विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा की पारी ने दोनों देशों के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट में उदाहरण पेश किया है कि इस पिच पर कैसे बल्लेबाजी करनी चाहिए. पुजारा ने एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में 123 रन बनाए जबकि दूसरी पारी में उन्होंने 71 रन बनाए. एडिलेड में जन्में हेड ने कहा, ‘पुजारा ने इस पिच पर जैसी बल्लेबाजी की वह दूसरे बल्लेबाजों के लिए उदाहरण है.’

आखिरी दिन अश्विन की भूमिका अहम होगी

ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए 2

‘पुजारा ने गेंद को अच्छे से छोड़ा और अच्छी रक्षात्मक तकनीक अपनाई. गेंद के पुराने होने के बाद उन्होंने ज्यादा रन जुटाए. उन्होंने स्विंग करती नई गेंद का सामना शानदार तरीके से किया.’पिच से ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर नाथन लियोन को काफी मदद मिल रही जिसे देखते हुए उन्होंने कहा कि पिच अब धीमी हो गई है और चौथी पारी में अश्विन की भूमिका अहम होगी.

हम लक्ष्य आसानी से हासिल कर लेंगे 

ट्रेविस हेड ने कहा, चेतेश्वर पुजारा से दोनों देशों के बल्लेबाजों को कुछ सीखना चाहिए 3

‘मैं अश्विन के खिलाफ रन बनाने की कोशिश कर रहा था. स्पिनरों को खेलने के मामले में मैंने दुबई में काफी कुछ सीखा है. मैं ऑफ स्पिनर के खिलाफ सकारात्मक था.’हेड को भरोसा है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम चौथी पारी में 300 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल कर लेगी. उन्होंने कहा, ‘चौथे और पांचवें दिन यहां बल्लेबाजी करना आसान होता है और 300 रन के लक्ष्य को आराम में हासिल किया गया है (घरेलू मैचों में).’
आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे लाइक करेंजिससे लेटेस्ट अपडेट आपको हम जल्दी पहुंचा सके।

Related posts