मैंने क्या गलत किया था जो मुझे टेस्ट टीम से निकाल दिया गया : उमर अकमल | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मैंने क्या गलत किया था जो मुझे टेस्ट टीम से निकाल दिया गया : उमर अकमल 

मैंने क्या गलत किया था जो मुझे टेस्ट टीम से निकाल दिया गया : उमर अकमल

पाकिस्तान के मध्यक्रम के बल्लेबाज़ उमर अकमल को उम्मीद है, कि पाकिस्तान की टेस्ट में उनकी वापसी हो सकती हैं. उमर अकमल ने 6 वर्ष पहले पाकिस्तान के लिए आख़िरी टेस्ट खेला था.

वर्ष 2009 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाले उमर अकमल ने पाकिस्तान के लिए अब तक 16 टेस्ट मैचो में 35.82 की औसत से रन बनाये हैं, जिस दौरान अकमल ने 1 शतक भी लगाया हैं. लगातार नाकाम रहने के बाद सितम्बर 2011 को उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था. तबसे अकमल टेस्ट टीम में वापसी का इंतज़ार कर रहे हैं. OMG: विराट कोहली के दोहरा शतक लगाने के दौरान सचिन तेंदुलकर को विराट कोहली के बल्ले पर दिखा कुछ ऐसा, कि ट्वीटर द्वारा सबको दी जानकारी

उमर अकमल का मानना है, कि टेस्ट क्रिकेट के लिए उनका बल्लेबाज़ी स्टाइल परफेक्ट है, ऐसे में वह एक मौके के हकदार हैं.

ईएसपीएन क्रिकइन्फो को दिए इंटरव्यू में उमर अकमल ने कहा,

मैं अभी भी आश्चर्य हूँ, कि मैंने क्या गलत किया था जो मुझे टेस्ट टीम से हटा दिया गया. उन्होंने मुझे यह कहकर टीम से निकल दिया की मैं टेस्ट क्रिकेट के लिए उपयुक्त नहीं हूँ.”

“पिछले कुछ वर्षो में टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए दृष्टिकोण बदल गया हैं. टीम एक दिन में 350 रन बना रही हैं, टेस्ट मैच 5वे दिन बेहद कम जाते हैं. मैं भी कुछ इसी तरह का क्रिकेट खेल रहा हूँ, जोकि वास्तव में समय के साथ विकसित हुआ हैं. लेकिन मैं इसलिए टीम से बाहर हुआ क्यूंकि मैं तेज क्रिकेट खेला, जोकि परंपरिक तरीका नहीं हैं. यह मेरी गलती थी?. अब पूरी दुनिया टेस्ट क्रिकेट के इस आधुनिक रूप से अच्छी तरह से अनुकूलित हो गया हैं.” GYM में अपनी पड़ोसी पार्टनर को दिल दे बैठे था यह भारतीय क्रिकेटर

विरोधियों अक्सर अकमल को आलोचना करते है, कि वह बड़े  स्कोर करने सक्षम नहीं हो पाते हैं, लेकिन अकमल का मानना ​​है, कि वह अक्सर स्थिति के अनुसार तेजी से रन बनाने का प्रयास करते हैं. जिस प्रयास में वह कई बार जल्दी आउट हो जाते हैं.

अकमल ने आगे कहा, “अगर आपको कहा जाए कि 10 रन प्रति ओवर से रन बनाने है तो आपसे क्या उम्मीद की जा सकती हैं. टीम के बारे में न सोचकर 5 की रन-रेट बनाकर क्या मुझे अपने लिए खेलना चाहिए?. या परिस्थिति की नजाकत को समझकर बड़े शॉट खेलना चाहिए. जब जानते हैं मैं किस नंबर पर खेलता हूँ. कई लोग मेरी तुलना अन्य नंबर के बल्लेबाजों से करते है लेकिन लोग यह क्यूँ नहीं समझते कि मैं जिस नंबर बल्लेबाज़ी करता हूँ, वह बल्लेबाज़ी पर एक अतिरिक्त बोझ हैं.” कैफ बने ट्विटर ट्रोलिंग के अगले शिकार

“मैं विरोधी टीम के दवाब से हमेशा अपनी टीम की मदद करने की कोशिश करता हूँ. लेकिन कई बार मैं ऐसा करने में नाकाम होता हूँ. लेकिन मेरे इरादे स्पष्ट होते हैं कि मैं जरूरत के हिसाब से अपनी टीम के लिए खेलना चाहता हूँ.”

Related posts