‘उमेश, मोहित व शमी को घरेलू टूर्नामेंट में खेलने को बाध्य न करें’ : धोनी

अगर सीधे तरीके से देखा जाये तो विश्व कप में भारतीय क्रिकेट के लिए लिए सबसे सही चीज उसके तेजगेंदबाजों का प्रदर्शन रहा और इसलिए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का मानना है किबेहतरीन खिलाड़ी उमेश यादव,खिलाड़ीमुहम्मद शमी और खिलाड़ी मोहित शर्मा की तिकड़ी को घरेलू प्रतियोगिताओंमें खेलने के लिए उन्हें बांध कर रखना बिलकुल उचित नहीं होगा जिससे कि यह सुनिश्चित हो सके किवह अभी तक थके नहीं और भी अच्छा खेल सकते है ।

भारतीय गेंदबाजों ने अपने बहुत अच्छे प्रदर्शन के साथ विरोधी टीमों के जो 72 विकेट चटकाए उसमें से 48 विकेटखिलाड़ी यादव (18), खिलाड़ी शमी (17) और खिलाड़ी मोहित (13) ने झटके थे । इन तीनों ने सच में इतना अच्छा खेला की अपनी गति, उछाल औरनियंत्रण से सभी को हैरान किया। पर अफ़सोस तो तब हुआ जब यह तीनों गेंदबाज सिर्फ ऑस्ट्रेलिया केखिलाफ सेमीफाइनल में ही अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, जिसमें खेलते हुए उन्होंने टीम को 95 रनसे शिकस्त का सामना करना पड़ा।

जब यह कप्तान महेंदर सिंह धोनी से पूछा गया कि कैसे मौजूदा खिलाडि़यों कोनिखारा और बचाया जा सकता है, धोनी ने हँसते हुए साफ़ साफ़ कहा कि पिछले कुछ समय से हमारे ढांचेमें यह समस्या है। तेज गेंदबाज के अंतरराष्ट्रीय दौरा पूरा करके लौटने परबहुत दुःख के साथ कहना पड़ रहा है की स्थानीय राज्य संघ उसे घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी के लिए कहता है। उन्हेंबेहतर होगा की इस पर नजर राखी जानी चाहिए कितने ओवर फेंकने को कहा जा रहा है पर अफ़सोस न ही इस पर नजर नहीं रखी जाती और न ही संतुलनरखा जाता है।

Related Topics