ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज़ों को उन्ही के अंदाज़ में जवाब देने के बाद उमेश यादव ने इस दिग्गज को दिया अपने शानदार प्रदर्शन का श्रेय 1

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गयी बॉर्डर- गावस्कर सीरीज का आखिरी मैच धर्मशाला के मैदान में खेला गया. यह मैच इस सीरीज का निर्णायक मैच था, जिसे 8 विकेट से जीतकर भारतीय टीम ने अपने नाम किया और सीरीज को भी 2-1 से जीत लिया. घरेलू सीरीज में सबसे अधिक विकेट लेने वाले दूसरे सबसे तेज गेंदबाज़ बने उमेश यादव

इस मैच की पहली इनिंग के बाद भारतीय टीम ने मात्र 32 रन की बढ़त बनायी थी, लेकिन उसके बाद दूसरी पारी में जिस तरह भारतीय टीम के गेंदबाजों ने प्रदर्शन किया और मात्र 137 रन तक ऑस्ट्रेलिया टीम को ऑल आउट कर दिया, वह देखने लायक था. खासकर जिस तरह उमेश यादव ने गेंदबाज़ी की और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को बाउंसर मारकर बेकफूट पर लेकर गए, वही इस पारी का सबसे बेहतरीन पल था.

उसके बाद जब उमेश यादव से इस प्रदर्शन के बारे में पूछा गया तो, उन्होंने कहा, “यह इस सीरीज का ही नहीं, बल्कि इस सीजन कभी आखिरी मैच था और इसलिए मैं इस मैच में अपना सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन करना चाहता था. इसीलिए मैंने अपने पूरे जोश से इस मैच में गेंदबाज़ी की.”     विडियो : उमेश यादव ने शानदार गेंद के साथ दिलाई पहली सफलता

उमेश यादव ने इस मैच में स्पिनर गेंदबाजों की तारीफ़ करते हुए कहा, “मैंने दूसरी पारी में गेंदबाज़ी में अपने मजबूत हिस्सों पर गेंदबाज़ी की, मैंने किसी भी समय ढील नहीं दिखाई, क्योंकि मुझे पता था, यह आखिरी मैच है, लेकिन उसके बाद अंत में हमारे स्पिनर गेंदबाजों ने भी कमाल कर दिखाया. दोनों (अश्विन और जडेजा) ने मिलकर आखिर के 6 विकेट लिए और हमारे बल्लेबाजों के लिए मात्र 106 रनों का लक्ष्य मिला.”

उमेश यादव ने आगे संजय बांगड़ की बढ़ाई करते हुए कहा, “मैंने इस सीजन में संजय बांगड़ के साथ बहुत समय बिताया है और उन्होंने हमेशा मुझे खुद पर विश्वास रखने के लिए कहा है.”  पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डर्क नानेस ने की उमेश यादव की तारिफ