//

अंपायर नितिन मेनन आईसीसी के एलीट पैनल 2020-21 में शामिल

क्रिकेट के खेल में अंपायर का योगदान काफी अहम रहता है, क्योंकि वहीं मैच का निर्णायक होता है. उसका सही फैसला देना काफी जरुरी होता है. इसी बीच भारत के युवा अंपायर नितिन मेनन को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के अंपायरों की इलीट पैनल में शामिल कर लिया गया है. नितिन को इंग्लैंड के नाइजल लॉन्ग की जगह 2020-21 के लिए जगह मिली है.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

आईसीसी के एलीट पैनल में शामिल होने वाले तीसरे भारतीय नितिन मेनन

अंपायर नितिन मेनन आईसीसी के एलीट पैनल 2020-21 में शामिल 1

यह सम्मान पाने वाले नितिन मेनन तीसरे भारतीय अंपायर हैं. नितिन से पहले श्रीनिवास वैंकटराघवन और सुंदरम रवि अंपायरों के इलीट पैनल में शामिल रह चुके हैं. नितिन को 3 टेस्ट, 24 वनडे और 16 टी-20 के अलावा 57 फर्स्ट क्लास मैच में अंपायरिंग का अनुभव है. एस रवि पिछले साल ही आईसीसी के इलीट पैनल से बाहर हुए थे.

एलीट पैनल में नाम होना मेरे लिए बहुत सम्मान और गर्व की बात

अंपायर नितिन मेनन आईसीसी के एलीट पैनल 2020-21 में शामिल 2

आईसीसी से जारी बयान में भारतीय अंपायर नितिन मेनन ने कहा, ”एलीट पैनल में नाम होना मेरे लिए बहुत सम्मान और गर्व की बात है. दुनिया के प्रमुख अंपायरों और रेफरियों के साथ-साथ नियमित रूप से काम करने का मेरा हमेशा से सपना रहा है.”

 

 

मध्य प्रदेश के लिए खेल चुके 2 लिस्ट ए मैच

अंपायर नितिन मेनन आईसीसी के एलीट पैनल 2020-21 में शामिल 3

नितिन मेनन मध्यप्रदेश की टीम के लिए 2 लिस्ट ए के मैच भी खेल चुके हैं, जिसमे उन्होंने 7 की औसत से 7 रन बनाए हुए हैं. वह राईट हेंड बल्लेबाज थे. उन्होंने मध्य प्रदेश के लिए पहली बार 8 जनवरी 2004 को विदर्भ के खिलाफ खेला था. वहीं 9 जनवरी 2004 को उत्तर प्रदेश के खिलाफ उन्हें खेलने का मौका मिला था.

हालांकि इस दौरान उनका प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा था, जिसके बाद उन्हें कभी भी मध्य प्रदेश की टीम में जगह नहीं मिली थी. उन्होंने भी अंपायरिंग की दुनिया में अपना करियर बनाने का फैसला किया और आज वह वर्तमान क्रिकेट के सबसे अच्छे अंपायर में से एक माने जाते हैं.