तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब 

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब

आईसीसी विश्वकप के शुरु होने में चंद दिनो का समय बचा हुआ है, 30 मई से इंग्लैंड की मेजबानी में इस मेगा इवेंट का आगाज हो जाएगा, विश्वकप के प्रबल दावेदार के रुप में पहले स्थान पर इंग्लैंड का नाम आता है, क्योंकि उन्हें घरेलू परस्थितियों का लाभ मिलना स्वाभाविक है. वहां इंडिया, दक्षिण अफ्रीका सरीखी टीमों को कम आंकना टीम के लिए बड़ी भूल साबित हो सकती है, इस बार विश्वकप में 10 टीमें भाग ले रही है.

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब 1

कुछ टीमें तो ऐसी है जो उलटफेर भी कर सकती है. विश्वकप ट्राफी जीतना हर टीम का सपना होता है, लेकिन आज हम क्रिकेट से जुडी़ ऐसी जानकारी देंगे जो आपको आश्चर्यचकित कर सकती है, तीन बार विश्वकप ट्राफी जीतने वाले देशों में उन खिलाड़ियों को मैन आफ द टूर्नामेंट का अवार्ड नहीं मिला है बल्कि दूसरे देश के खिलाड़ी को इस अवार्ड से सुशोभित किया है.

मार्टिन क्रोः

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब 2

मार्टिन क्रो 1992 में मैन आफ द टूर्नामेंट मिला था, इस समय उन्होंने बल्ले से शानदार प्रर्दशन किया था, बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रर्दशन करने के लिए उन्हें इस पुरुस्कार से नवाजा गया था. इस टूर्नामेंट में उन्होंने 456 रन बनाए थे. इस दौरान उन्होंने गेंद से भी बेहतर प्रर्दशन किया था. कीवी टीम सेमाफाइनल तक पहुंच गई लेकिन सेमीफाइनल में पाक टीम ने हार के साथ टीम को बाहर का रास्ता दिखा दिया, इसके बावजूद वह मैन आफ द टूर्नामेंट जीतने में सफल रहें.

लांस क्लूजनरः

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब 3

लांस क्लूजनर जो दक्षिण अफ्रीका के हरफनमौला खिलाड़ी थे, 1999 में विश्वकप की मेजबानी इंग्लैंड ने की. अफ्रीकी खिलाड़ी ने अपने प्रर्दशन से सभी को प्रभावित किया था. उन्होंने इस दौरान पावर हिटिंग बल्लेबाजी की बखूबी इस्तेमाल किया, इस दौरान उन्होंने मैदान के चारों ओर छक्के लगाए. इस दौरान उन्होंने गेंद और बल्ले से कमाल का प्रर्दशन करते हुए टीम को सेमीफाइनल तक पहुंचाया, इस दौरान उन्होंने बल्ले से 241 रन बनाए. इसके साथ ही उन्होंने 17 विकेट भी हासिल किए, इसके लिए उन्हें मैन आफ द टूर्नामेंट से नवाजा गया.

सचिन तेंदुलकरः

तीन ऐसे क्षण जब विश्वकप विजेता के अलावा दूसरी टीम के खिलाड़ी ने जीता मैन आफ द टूर्नामेंट का ख़िताब 4

क्रिकेट के भगवान कहे जाने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का नाम भी इस सूची में आता है, इनके शानदार प्रर्दशन के बदौलत उन्हें ममैन आफ द टूर्नामेंट के अवार्ड से नवाजा गया. 2003 विश्वकप में उन्होंने ये ख्याति प्रदान की. इस साल इंडिया की टीम फाइनल में पहुंची थी लेकिन आस्ट्रेलिया ने फाइनल में हरा दिय़ा था, इस मेगा इवेंट में सचिन तेंदुलकर ने शानदार प्रर्दशन किया था. उन्होंने इस दौरान 673 रन बनाए थे, इस शानदार प्रर्दशन के लिए उन्हें मैन आफ द टूर्नामेंट से नवाजा गया था.

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो, प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर पहुंचाने के लिए शेयर करे और साथ ही अगर कोई सुझाव देना चाहते है तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अभी तक हमारे पेज को लाइक नहीं किया है. तो कृपया अभी लाइक करें , जिससे लेटेस्ट अपडेटस आपतक पहुंचा सके.

Related posts