अफ्रीका के खिलाफ चुनी गयी टीम देखने के बाद समझ से बिल्कुल परे है ये 5 फैसले

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

साउथ अफ्रीका दौरे के लिए चुनी गई 17 सदस्यी वनडे भारतीय टीम देखने के बाद समझ से बिलकुल परे है चयनकर्ताओ के ये 5 फैसले 

साउथ अफ्रीका दौरे के लिए चुनी गई 17 सदस्यी वनडे भारतीय टीम देखने के बाद समझ से बिलकुल परे है चयनकर्ताओ के ये 5 फैसले

भारतीय टीम के 5 जनवरी 2018 से शुरू होने वाले साउथ दौरें के लिए भारतीय टीम की टेस्ट टीम का चयन 4 दिसंबर को कर लिया गया था और आज 23 दिसंबर शनिवार को चयनकर्ताओं ने साउथ अफ़्रीकी के खिलाफ होने वाली छह वनडे मैच की सीरीज के लिए भी टीम का ऐलान कर दिया है.

इसी चयन के चलते आज हम आपकों अपने इस खास लेख में भारतीय टीम की चुनी हुई टीम भी दिखायेंगे और टीम से जुड़े पांच चौकाने वाले फैसलों के बारे में भी बताएंगे.

यहाँ देखे पहले टीम :

अब यहाँ देखे पांच चौकाने वाले फैसले :

  1. सिद्धार्थ कौल को बिना मौका दिये टीम से क्यों किया गया बाहर :

पंजाब के तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कौल को पहली बार श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम में जगह मिली थी, लेकिन उन्हें तीन मैच की इस वनडे सीरीज में एक भी मैच में प्लेयिंग इलेवन में खेलने का मौका नहीं मिला.

अब उन्हें साउथ अफ्रीका दौरे से चयनकर्ताओं ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है. इसलिए चयनकर्ताओं का यह फैसला बहुत ज्यादा हैरानी भरा है.

सिद्धार्थ कौल अच्छे फॉर्म में थे. उन्होंने इस रणजी सीजन में दो मैच खेलकर 8 विकेट भी लिए थे, लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें भारतीय टीम से बाहर कर दिया है.

2. केएल राहुल को शानदार प्रदर्शन के बावजूद जगह क्यों नहीं?

चयनकर्ताओ केएल राहुल जैसे बहुत ही प्रतिभावान खिलाड़ी को बार-बार वनडे टीम से नजरंदाज कर रहे है और एक बार फिर उन्होंने ऐसा किया है, लेकिन यह इसलिए ज्यादा हैरान करता है, क्योंकि केएल राहुल ने श्रीलंका के खिलाफ चल रही टी20 सीरीज में 61 व 89 रन की शानदार पारियां खेली है, लेकिन फिर भी चयनकर्ताओं ने सभी को चौकाते हुए राहुल को साउथ अफ्रीका जाने वाली वनडे टीम में जगह नहीं दी है.

3. रैना युवी के यो-यो टेस्ट पास करने के बावजूद वापसी क्यों नहीं?

भारतीय टीम के दो मध्यक्रम के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह और सुरेश रैना ने जब तक अपना यो-यो फिटनेस टेस्ट पास नहीं किया था. तब तक चयनकर्ता भारतीय टीम के हर टीम के चयन के बाद बोल रहे थे, कि युवी और रैना को उनके फिटनेस टेस्ट पास ना कर पाने के कारण टीम में नहीं लिया जा रहा है, लेकिन अब दोनों ने ही हाल में अपना यो-यो फिटनेस टेस्ट पास कर लिया था, लेकिन फिर भी चयनकर्ताओं ने दोनों में से किसी को भी टीम में नहीं लिया इसलिए चयनकर्ताओं का यह फैसला भी काफी चौकाता है.

4. शमी की टीम में जगह तो उमेश यादव को क्यों नहीं?

चयनकर्ताओं के चौकाने वाले फैसले में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की वापसी भी बड़ी ही चौकाने वाली थी, लेकिन हैरान यह बात ज्यादा करती है कि जब शमी की वापसी कराई गई है, तो तेज गेंदबाज उमेश यादव की वापसी क्यों नहीं कराई गई. अगर उमेश टीम में होते तो  वह अफ्रीका की पिचों में मददगार साबित हो सकते थे.

क्या घरेलू क्रिकेट नहीं देख रहे चयनकर्ता?

कहा जाता है, कि अगर आपकों भारतीय टीम में जगह बनानी है तो आप रणजी में रनों का अंबार लगा दो और इस रणजी सीजन में ऐसा ही कुछ कर्नाटक के ओपनर बल्लेबाज मयंक अग्रवाल, पंजाब के युवा बल्लेबाज अनमोल प्रीत सिंह और संजू सैमसन ने भी किया था, लेकिन चयनकर्ताओ ने ना तो इन स्टार खिलाड़ियों को जगह दी और ना ही अन्य कोई ऐसे खिलाड़ी को टीम में जगह दी जो रणजी के इस सत्र में अच्छा प्रदर्शन कर रहा हो.

Related posts

Leave a Reply