वीडियो : दानिश कनेरिया ने कहा, कम से कम अब तो मेरे साथ ज्‍यादती बंद करें

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

वीडियो : दानिश कनेरिया ने कहा, कम से कम अब तो मेरे साथ ज्‍यादती बंद करें 

वीडियो : दानिश कनेरिया ने कहा, कम से कम अब तो मेरे साथ ज्‍यादती बंद करें

आज भारत और पाकिस्तान दोनों की ही स्पोर्ट्स मीडिया में सिर्फ और सिर्फ दानिश कनेरिया ही छाएं हुए हैं. दरअसल, पाकिस्तानी चैनल पीटीवी के एक शो के दौरान शोएब अख्तर ने कहा था, कि हिन्दू होने की वजह से दानिश कनेरिया की टीम में इज्जत नहीं की जाती थी. पाकिस्तानी खिलाड़ी उनके साथ खाने से भी पीछे हटते थे.

दानिश कनेरिया ने कहा शोएब भाई सही बोल रहे

शोएब अख्तर

शोएब अख्तर के इस बयान को दानिश कनेरिया ने भी सही बताया हैं. उन्होंने शोएब अख्तर का शुक्रिया करते हुए कहा है कि मुझे ख़ुशी है, कि शोएब भाई ने बात को कहना का साहस किया है, क्योंकि मैं इस बात को कभी नहीं कह पाया था. बता दें, कि दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान के लिए 61 टेस्ट मैचों में 261 विकेट व 18 वनडे मैच में कुल 15 विकेट हासिल किये हैं.

इंजमाम-अफरीदी ने आरोपों को बताया झूठा

इंजमाम उल हक़

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी और इंजमाम उल हक ने दानिश कनेरिया के बयान को झूठा बताया था और कहा था, कि उनके साथ कुछ भी ऐसा नहीं हुआ था.

दरअसल, पाकिस्तान के कई पूर्व क्रिकेटरों का मानना ​​है कि दानिश कनेरिया ने अपने यूट्यूब चैनल को हिट कराने के लिए गलत तरीका अपनाया.

इस बारे में सफाई देते हुए पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने कहा, “फैंस ने बहुत समय में जो मुझे प्यार किया, उसे शब्दों में बयां करना मुश्किल है. कुछ लोग यह बोल रहे हैं कि मैंने सस्ती शोहरत पाने के लिए यह कहा है. मैं उन्हें याद दिला दूं कि मैंने कभी इस तरह की बात नहीं की, इस बात का खुलासा शोएब अख्तर ने नेशनल टीवी पर किया था. मैंने जो कुछ भी झेला, उसे कभी अपनी क्रिकेट के आगे नहीं आने दिया.”

कम से कम अब तो मेरे साथ ज्‍यादती बंद करें

शोएब अख्तर

दानिश कनेरिया ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, “कम से कम अब तो मेरे साथ ज्‍यादती बंद करें, कई लोग मेरे बारे में भला-बुरा कह रहे हैं. कई दुकानों पर बैठकर मेरे खिलाफ बयानबाजी की जा रही है. इन लोगों ने मेरे हाथ-पैर काट लिए, रोजी-रोटी छीन ली. मेरी क्रिकेट छूटी, फिर कुछ टीवी चैनल पर बैठा, लेकिन वहाँ से अब तक पेमेंट नहीं मिली है. अब वह लोग क्या चाहते हैं कि मैं खुद को खत्म कर लूं, मेरा भी परिवार है. 10 साल से मेरे पास कोई काम नहीं है.”

दानिश कनेरिया ने आगे अपने बयान में कहा, “मैंने कभी किसी बात को क्रिकेट के आगे नहीं आने दिया. मैंने जमकर गेंदबाजी की, एक दिन में 30-40 ओवर किए. मेरी उंगली से ब्लड बहता था, लेकिन तब भी मैं गेंदबाजी करता रहता था.  जब भी टीम खराब स्थिति में होती थी तो मुझे नींद नहीं आती थी. हम भारत और ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अगर अच्छी लय में नहीं होते थे, तो मैं रातभर जागकर योजना बनाता था कि कैसे गेंदबाजी करके विकेट निकालना है.”

 

Related posts