in , ,

टी-20 सीरीज हारने के बाद विजय शंकर ने कप्तान रोहित शर्मा के इस फैसले पर जताई हैरानी

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत को अंतिम टी-20 मैच में 4 रनों से हार मिली। पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने 212 का स्कोर बनाया था लेकिन भारत 208 रन ही बना पाया। अंतिम तीन ओवर में टीम को जीत के लिए 47 रन चाहिए थे। दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या ने विस्फोटक बल्लेबाज कर भारत को जीत के करीब ला दिया था।

विजय शंकर ने किया प्रभावित

भारतीय टीम ने तीनों मैचों में विजय शंकर को प्रमुख बल्लेबाज के रूप में टीम में मौका दिया। उन्होंने भले ही बड़ी पारी नहीं खेली लेकिन अपनी छोटी पारियों में सभी को प्रभावित किया। तीसरे मैच के बाद उन्होंने कहा

“ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड के पहले दौरे के बाद काफी सुधरे क्रिकेटर के तौर पर स्वदेश लौटूंगा। टीम के सभी खिलाड़ियों से कुछ ना कुछ सीखने को मिलता है। धोनी भाई, विराट, रोहित को देकर पता चलता है कि कैसे बड़े लक्ष्य को आसान बनाया जाता है।”

टीम के फैसले से हुए थे हैरान

ऑलराउंडर विजय शंकर को दो मैच में नंबर तीन और एक मैच में नंबर चार पर बल्लेबाजी करने का मौका मिला। टीम के इस फैसले से वह काफी हैरान भी थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा

“यह मेरे लिए बहुत हैरानी की बात थी, जब उन्होंने मुझे तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए कहा। यह बड़ी चीज है। मैं इस स्थिति में खेलने के लिए तैयार था। अगर आप भारत जैसी टीम के लिए खेल रहे हो तो आपको हर चीज के लिए तैयार रहना चाहिए।”

अपने अनुभव के बारे में बताया

विजय शंकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में अपना डेब्यू किया था। उन्हें भले ही गेंदबाजी का ज्यादा मौका नहीं मिला लेकिन बल्लेबाजी से उन्होंने अपनी पहचान बनाई। अंतिम में उन्होंने कहा

“आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ इन दोनों सीरीज से मैंने काफी कुछ सीख।. मैंने भले ही ज्यादा गेंदबाजी नहीं की हो, लेकिन मैंने विभिन्न हालात में गेंदबाजी करना सीखा।”

 

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें और साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपको जल्दी पहुंचा सकें।