विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया 

विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया
MANCHESTER, ENGLAND - JUNE 16 : Vijay Shankar is congratulated by Virat Kohli of India after dismissing Imam-ul-Haq of Pakistan during the ICC Cricket World Cup Group Match between India and Pakistan at Old Trafford on June 16, 2019 in Manchester, England. (Photo by Philip Brown/Popperfoto via Getty Images)

हार्दिक पांड्या के सस्पेंड होने के बाद ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ जनवरी-फरवरी में हुए सीरीज के लिए विजय शंकर को टीम में जगह मिली थी। न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतिम वनडे में मुश्किल परिस्थिति में उन्होंने 45 रनों की पारी खेली। इसी पारी में उन्हें विश्व कप की टीम में जगह दिला दी और अंबाती रायडू को टीम टीम से बाहर होना पड़ा।

पहली गेंद पर लिया विकेट

विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया 1

विजय शंकर ने विश्व कप में अपने पहले ही गेंद पर विकेट चटका दिया। वह ऐसा करने वाले पहले और एकमात्र भारतीय खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने इमाम उल हक को आउट किया था। उस मैच के बारे में उन्होंने कहा

“पाकिस्तान के खिलाफ मैं अपने प्रदर्शन से बहुत खुश था। जब राष्ट्रगान बजाया जा रहा था तो मैदान पर खड़े होना शानदार अहसास था। ईमानदारी से कहूं तो जब मुझे गेंद सौंपी गई थी तो मैं गेंदबाजी करने की उम्मीद नहीं कर रहा था, लेकिन ऐसी स्थिति में, मैंने सिर्फ अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की और कसकर गेंदबाजी की। गेंद स्विंग हो रही थी और मैं उस का उपयोग करना चाहता था। यह एक अविश्वसनीय क्षण था।”

चोटिल होकर हुए बाहर

विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया 2

वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के बाद वह चोटिल हो गये थे। अभ्यास सत्र के दौरान उनके पैर के अंगूठे पर जसप्रीत बुमराह ककी गेंद लगी और वह फ्रैक्चर हो गया। इसके बाद उन्हें विश्व कप से बाहर होना पड़ा। शंकर ने इसपर कहा

“यह बहुत निराशाजनक समय था। प्रत्येक खिलाड़ी अपने देश के लिए खेलने का सपना देखता है और इसलिए मैंने यह समझा पाना कठिन है कि मैंने उस समय क्या महसूस किया था। लेकिन तब मैं इससे निराश और निराश नहीं हो सकता। मुझे आगे बढ़ना था।”

विजय हजारे ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन

विश्व कप में पहली गेंद पर विकेट लेने और फिर टूर्नामेंट से बाहर होने पर विजय शंकर ने दी प्रतिक्रिया 3

विजय शंकर ने विजय हजारे ट्रॉफी में बल्ले और गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया था। 10 मैचों की 10 पारियों में उनके बल्ले से 55 की औसत से 384 रन निकले। इसमें तीन अर्धशतक भी शामिल थे। गेंदबाजी में भी महत्वपूर्ण मौकों पर विकेट चटकाए थे।

भारतीय टीम को दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज खेलनी है। अभी वह देवधर ट्रॉफी में इंडिया बी के लिए खेल रहे हैं। उम्मीद जताई जा सकती है कि उन्हें विंडीज के खिलाफ टीम में जगह मिलेगी।

Related posts