भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन से निराश हुए कोच Vikram Rathour, जमकर लगाई फटकार!
भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन से निराश हुए कोच Vikram Rathour, जमकर लगाई फटकार!

एजबेस्टन में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज के आखिरी टेस्ट के चौथे दिन टीम इंडिया ने बल्ले और गेंद दोनो से ही निराशाजनक प्रदर्शन किया, जिसके बाद टीम इंडिया के बैटिंग कोच विक्रम राठौर (Vikram Rathour) अपने बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर बेहद ही निराश हुए। उन्होंने बल्लेबाजों की क्लास लगाते हुए बताया कि भारत एक बल्लेबाजी इकाई के रूप में बेहतर प्रदर्शन कर सकता था और इंग्लैंड को इस टेस्ट मुकाबले से बाहर कर सकता था। लेकिन टीम इंडिया ऐसा करने में नाकाम हो गयी और पूरी टीम दूसरी पारी में महज 245 रनों पर ही ढेर हो गयी, जिसके बाद इंग्लैंड को 378 रनों का ही लक्ष्य मिल सका।

बैटिंग कोच ने लगा दी बल्लेबाजों की क्लास

Vikram Rathour
Vikram Rathour

इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में टीम इंडिया बल्ले के साथ साथ गेंद के साथ भी मेजबान टीम पर हावी रहे। लेकिन दूसरी पारी में टीम इंडिया की न तो बल्लेबाजी ठीक रही और न ही गेंदबाजी में कोई दम दिखा। एजबेस्टन में खेले जा रहे सीरीज के आखिरी मैच के चौथे दिन टीम इंडिया की बल्लेबाजी में कोई दम नहीं दिखा और पूरी टीम महज 245 रनों पर ही ऑल आउट हो गयी। इस वजह से इंग्लैंड के सामने दूसरी पारी में जीत के लिए केवल 378 रनों का ही लक्ष्य रखने में कामयाब रही। टीम के खराब बल्लेबाजी को देखते हुए बैटिंग कोच Vikram Rathour ने प्रेस कॉन्फेरेंस में कहा-

“बल्ले के साथ हमारा दिन सामान्य ही रहा। हम खेल में तो आगे थे और ऐसी स्थिति में थे जहां से हम इंग्लैंड को खेल से बाहर कर सकते थे। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। कई खिलाड़ियों ने शुरूआत  तो अच्छी की लेकिन एक बड़े स्कोर तक ले जाने में नाकाम रहे। उम्मीद थी कि उनमें से कोई एक बड़ी पारी खेलेगा या साझेदारी बनायेगा। लेकिन हम ऐसा करने में असफल रहे।हमें बल्लेबाजी इकाई के रूप में बेहतर रणनीति देखनी चाहिए थी।” 

विक्रम राठौर ने निकाली बल्लेबाजों की कमी

Vikram Rathour
Vikram Rathour

एजबेस्टन टेस्ट के चौथे दिन टीम इंडिया के प्रदर्शन से बैटिंग कोच Vikram Rathour बेहद निराश हुए हैं। इन्होंने मैच के बाद एक प्रेस कॉन्फेरेंस में बल्लेबाजों के साथ गेंदबाजों पर भी जमकर बरसे। Vikram Rathour ने बताया कि खराब गेंदबाजी प्रदर्शन के लिए मौसम का बहाना नहीं दिया जा सकता है। खराब गेंदबाजी के कारण इंग्लैंड के बल्लेबाज जो रूट और जॉनी बेयर्स्टो ने मैच में अपना दबदबा बना लिया। Vikram Rathour ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहते हैं-

“हमें बेहतर गेंदबाजी के साथ बेहतर क्षेत्रों में भी गेंदबाजी करने की जरूरत थी। यह अभी भी एक बड़ा लक्ष्य है और अभी भी 119 रन बाकि है। हम अब भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। अगली सुबह दो विकेट जल्दी और मैच फिर से खुल जायेगा।” 

रूट-बेयर्स्टो की जोड़ी ने किया कमाल

Root and Bairstow
Vikram Rathour

टीम इंडिया के बैटिंग कोच Vikram Rathour ने जहां इस मुकाबले के चौथे दिन अपने टीम के प्रदर्शन से बेहद निराश हुए हैं तो वहीं दूसरी तरफ इंग्लैंड के बल्लेबाज जो रूट और जॉनी बेयर्स्टो ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड को खेल में वापसी कराने में कामयाब रहे। चौथे दिन के खेल खत्म होने तक दोनो ने अर्धशतकीय पारी खेलकर नाबाद रहे। जो रूट ने 9 चौको की मदद से 76 तो वहीं जॉनी बेयर्स्टो ने 8 चौको और 1 छक्के की मदद से 72 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए हैं।