विराट कोहली के पक्ष में उतरा रोहित शर्मा का साला, कहा- भारतीय कप्तान को फंसाया जा रहा है 1

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान और रन मशीन विराट कोहली इन दिनों मुश्किल में फंसे हुए हैं। विराट कोहली वैसे तो हमेशा विरोधी टीम और विरोधी टीम के कप्तान के लिए मुश्किल बनते हैं लेकिन आज वो खुद ऐसी मुश्किल में फंसे हैं जो उनके बिन-बुलाए घर बैठे-बैठे आ गई है जिसके बाद अब वो सोचने पर मजबूर हो गए हैं।

विराट कोहली पर लगा है हितों का टकराव का आरोप

विराट कोहली की ये मुश्किल है हितों का टकराव का मामला। भारतीय टीम के कप्तान पर हितों के टकराव का एक आरोप लगा है जिनको एक ही समय पर दो-दो पद का लाभ होने का आरोप लगाया जा रहा है। जिसके बाद मामला बीसीसीआई के लोकपाल में चला गया है।

विराट कोहली के पक्ष में उतरा रोहित शर्मा का साला, कहा- भारतीय कप्तान को फंसाया जा रहा है 2

मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य संजीव गुप्ता ने विराट कोहली के खिलाफ हितों के टकराव का आरोप लगाया है, जिसमें उनका मानना है कि विराट कोहली एक साथ दो पदों पर आसीन हैं। वो भारतीय टीम के कप्तान होने के साथ ही भारतीय टीम के खिलाड़ियों का मैनेजमेंट देखने वाली कंपनी कॉर्नस्टोन स्पोर्ट एंड एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के सह-निदेशक के रूप में जुड़े हैं।

रोहित शर्मा के साले और कंपनी के सीईओ बंटी सजदेह ने बताया आरोपों को बकवास

मामला बीसीसीआई के लोकपाल में जाने के बाद बीसीसीआई के लोकपाल डीके जैन ने कहा कि “वो गुप्ता(संजीव गुप्ता) के आरोपों की जांच करेंगे। “

विराट कोहली के पक्ष में उतरा रोहित शर्मा का साला, कहा- भारतीय कप्तान को फंसाया जा रहा है 3

तो वहीं भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के साले बंटी सजदेह जो कॉर्नरस्टोन स्पोर्ट एंड एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ हैं उन्होंने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि “विराट कोहली के नाम को घसीटा जा रहा है। पीटीआई से बात करते हुए बंटी सजदेह ने कहा कि ये विराट और कोर्नस्टोन से जुड़े हितों के टकराव के संदर्भ में है। ऐसे निराधार आरोपों में विराट का नाम बार-बार घसीटना दुर्भाग्यपूर्ण है।”

विराट कोहली का नाम लेना दुर्भाग्यपूर्ण

बंटी सजदेह ने आगे कहा कि “इस तरह की अटकलें पूरी तरह से कल्पनाओं पर आधारित हैं। इससे ज्यादा कुछ नहीं है। विराट कॉर्नस्टोन से अनुबंधित से विशेष खिलाड़ी हैं। वो ऐसे ही हैं जैसे हमारा दूसरा अनुबंध दूसरी प्रतिभाओं से है। एक जिम्मेदार एजेंसी के रूप में हम एक बार फिर दोहराते हैं कि इस मामले में विराट या हमारी दूसरी प्रतिभा में से किसी के साथ हितों का टकराव कोई सवाल ही नहीं है। तीसरे पक्ष के लोग निहित स्वार्थ के कारण दूसरे तरीके सोचते हैं।”

विराट कोहली के पक्ष में उतरा रोहित शर्मा का साला, कहा- भारतीय कप्तान को फंसाया जा रहा है 4

बंटी सजदेह ने आगे कहा कि “मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि किसी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले सभी तथ्यों की जांच कर लें। हम अपना व्यवसाय बहुत ही पेशेवर और पारदर्शी तरीके से करते हैं, जिसे समय-समय पर सार्वजनिक प्राधिकरणों के पास दाखिल दस्तावेजों से आसानी से सत्यापित किया जा सकता है। इस मामले पर हमें इतना ही कहना है।”