विराट कोहली की इस बात से गौतम गंभीर हुए इमोशनल, शेयर किया ट्वीट

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

गौतम गंभीर के दिल को छू गई विराट कोहली की ये बात, अब किंग कोहली के लिए कही ये बात 

गौतम गंभीर के दिल को छू गई विराट कोहली की ये बात, अब किंग कोहली के लिए कही ये बात

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस मुकाम को हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की है। एक टीवी इंटरव्यू में विराट कोहली ने अपने पिता की मौत के बारे में बात की। विराट कोहली के इस इंटरव्यू में पिता की मौत से मिली इंसपिरेशन वाला वाडियो दिग्गज खिलाड़ी गौतम गंभीर ने अपने ट्विटर हैंडिल पर शेयर किया है।

गौतम गंभीर ने किया शेयर

वैसे तो विराट कोहली ने इस इंटरव्यू में काफी कुछ बताया लेकिन गंभीर को उनकी एक बाद दिल को छू गई। इस वीडियो में कोहली ने बताया है कि किस तरह उन्होंने अपने उस सबसे मुश्किल वक्त से मुश्किलों से लड़ना सीखा।

जब भी मैं गिरा, जब भी मैं नीचे हुआ तो मैं सबकुछ किनारे करके बस एक ही चीज सोचता था कि मैं मेहनत करुंगा और मेहनत करुंगा। और वापसी करुंगा।

मैंने उनसे यह प्रॉमिस नहीं किया था कि मैं कभी अपने क्रिकेट में मुड़कर नहीं देखूंगा, खुद को नीचे नहीं गिरने दूंगा। जाहिर है जिंदगी और खेल में हमेशा ऐसा होता ही है।

लेकिन हर बार मैंने वापसी की और तब मुझे अहसास हुआ कि उस( पिता की मौत ) हादसे ने मुझे मानसिक तौर पर इतनी मजबूती दी है कि मैं बार-बार उठने की ताकत रखता हूं।

बल्कि मेरा ध्यान भटका क्योंकि मैं भी इंसान हूं और भटकाव हर किसी की लाइफ में होते हैं। मैंने फिर गलतियां भी की। लेकिन मेरे पास वापसी करने की क्षमता थी और आज मैं बहुत अच्छा महसूस करता हूं कि मेरी जिंदगी की सबसे कठिन परिस्थिति ने मुझे इतनी ताकत दी।

पिता की मौत में मैंने मुश्किलों से लड़ना सीखा

विराट कोहली

जिस दिन विराट कोहली के पिता का निधन हुआ था उस समय कोहली कर्नाटक के खिलाफ रणजी खेल रहे थे। पहले दिन वह नॉटआउट रहे और पिता की मौत की खबर ने उन्हें हिलाया लेकिन वह दूसरे दिन मैदान पर उतरे और उन्‍होंने 90 रनों की पारी खेली।

कोहली ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि किसी भी कारण से वह क्रिकेट का मैच नहीं छोड़ सकते और पिता के निधन के बाद उन्‍होंने यह तय कर लिया था कि क्रिकेट उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता होगी। उन्‍होंने कहा कि पिता के निधन ने उन्‍हें मुश्किलों से लड़ना और बुरे समय का सामना करना सिखाया।

पिता की मौत पर मैं रो भी नहीं पा रहा था

विराट कोहली

कोहली ने इंटरव्यू में बताया,

‘उस समय मैं 4 दिनों का मैच खेल रहा था और जब मेरे पिता का निधन हुआ तो मेरे सामने 2 रास्ते थे जिसमें से मैंने क्रिकेट को चुना और अगले दिन बल्‍लेबाजी जारी रखनी थी।

उस रात के बारे में बात करते हुए कोहली ने बताया,

सुबह के ढाई बजे उनका देहांत हुआ। हम सब जागे लेकिन उस समय हमें कुछ नहीं पता था। मैंने उन्‍हें आखिरी सांस लेते हुए देखा। हम आसपास के डॉक्‍टरों के यहां गए लेकिन किसी ने दरवाजा नहीं खोला।

फिर हम उन्‍हें अस्‍पताल लेकर गए लेकिन बदकिस्मती से डॉक्‍टर उन्‍हें बचा नहीं पाए। परिवार के सभी लोग टूट गए और रोने लगे लेकिन मेरी आंखों से आंसू नहीं आ रहे थे। मैं समझ नहीं पा रहा था कि क्‍या हो गया और मैं सन्‍न था।’

फूट-फूट कर रोया था मैं

‘मैंने सुबह अपने कोच को फोन किया और पिता की मौत के बारे में बताया। साथ ही कहा कि मैं आगे खेलना चाहता हूं क्‍योंकि चाहे कुछ हो क्रिकेट छोड़ना मंजूर नहीं था।

मैदान पर गए तो मैंने एक दोस्‍त को बताया। उसने बाकी साथियों को खबर दी। जब ड्रेसिंग रूप में मेरे टीम साथी मुझे सांत्‍वना दे रहे थे तो मैं बिखर गया और रोने लगा।

Related posts