विराट कोहली के आईपीएल में 10 सालों के सफ़र पर एक नज़र, ऐसा रहा है इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विराट कोहली के आईपीएल में 10 सालों के सफ़र पर एक नज़र, ऐसा रहा है इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर 

विराट कोहली के आईपीएल में 10 सालों के सफ़र पर एक नज़र, ऐसा रहा है इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

विराट कोहली आईपीएल इतिहास के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल है, जो सभी आईपीएल सीजन में एक ही फ्रंचाईजी टीम के लिए हैं. एक युवा अनकैप खिलाड़ी के तौर आरसीबी से जुड़ने वाले कोहली आज विश्व के सबसे सफ़ल बल्लेबाजों में शामिल हैं.

विराट कोहली ने आईपीएल और अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में लगभग एक साथ पदार्पण किया था.

तकनीकी और मानसिक बदलाव के अलावा, कोहली ने शारीरिक रूप से खुद को फिर से पुनर्निर्माण किया है और जिसका असर समय के साथ-साथ उनके प्रदर्शन पर देखने को मिला हैं.  शर्मनाक आईपीएल सत्र के बीच आई विराट कोहली के लिए बुरी खबर, इस मामले ने सुरेश रैना से पिछड़े टीम इंडिया के कप्तान

इस लेख में हम विराट कोहली अब तक के आईपीएल सफ़र के बारे में जानेगे:-

2008- अनकैप खिलाड़ी के रूप में पदार्पण
विराट कोहली के आईपीएल में 10 सालों के सफ़र पर एक नज़र, ऐसा रहा है इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर 1
विराट कोहली आईपीएल इतिहास के ऐसे खिलाड़ी है, जो अभी तक आईपीएल नीलामी में शामिल नहीं हुए हैं. वर्ष 2008 में रॉयल चैलेंजरर्स बैंगलोर ने कोहली को अंडर-23 खिलाड़ी के कोटे के तहत महज 20 लाख की बेस मूल्य में ख़रीदा था. उस दौरान कोहली के बाद अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट का अनुभव नहीं था.

विराट कोहली ने वर्ष 2008 में कुछ ख़ास प्रदर्शन नहीं किया. आईपीएल के पहले सीजन में कोहली ने 13 मैचो में 15 औसत से महज 165 रन बनायें.

2009- बड़े खिलाड़ियों के बीच खोये रहे
विराट कोहली के आईपीएल में 10 सालों के सफ़र पर एक नज़र, ऐसा रहा है इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर 2
वर्ष 2009 में रॉयल चैलेंजरर्स बैंगलोर की टीम ने फाइनल तक का सफ़र किया. अनिल कुंबले के नेतृत्व में टीम खिलाड़ियों ने कुछ प्रेरणादायक प्रदर्शन किया. इस दौरान तक भी विराट कोहली भारतीय टीम के नियमित सदस्य नहीं थे, टीम में बड़े खिलाड़ियों के छत्रछाया में विराट कोहली को ज्यादा महत्व नहीं दिया गया.

वर्ष 2009 में विराट कोहली ने 13 पारियों में 22.36 की औसत और एक अर्द्धशतक की मदद से 246 रन बनायें.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

Related posts