टेस्ट मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों को खेलना पसंद करेंगे विराट कोहली

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

टेस्ट मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों का सामना करना चाहते हैं विराट कोहली 

टेस्ट मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों का सामना करना चाहते हैं विराट कोहली

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को एशिया कप में आराम दिया गया है। इंग्लैंड दौरे के दौरान उनके पीठ में परेशानी हुई थी और यही वजह है कि उन्हें आराम दिया गया है। एशिया कप में भारतीय टीम पाकिस्तान के खिलाफ दो मैच खेल चुकी है और दोनों में उसे जीत मिली थी। हालाँकि, सभी ने इन मैचों में कोहली की कमी महसूस की है। अब कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ खेलने पर बयान दिया है।

टेस्ट में पाकिस्तान की गेंदबाजी खेलने पसंद करूंगा

टेस्ट मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों का सामना करना चाहते हैं विराट कोहली 1

पाकिस्तान टीम हमेशा अपनी गेंदबाजी के लिए जानी जाती रही है। उनके पास वसीम अकरम, वकार युनुस और शोएब अख्तर जैसे तेज गेंदबाज थे। आज के समय में भी पाक टीम के पास टेस्ट मैचों में मोहम्मद आमिर, हसन अली जैसे तेज गेंदबाज मौजूद हैं साथ ही उनके पास यासिर शाह जैसा स्पिनर भी है। इन गेंदबाजों के खेलने के बारे में विजडन इंडिया से बात करते हुए कोहली ने कहा

“इनके पास शानदार गेंदबाजी अटैक है और मैं बल्लेबाज के तौर पर उन्हें खेलना पसंद करूँगा। यह हो सकता है लेकिन ऐसा कुछ नहीं है कि मुझे काफी इच्छा है खेलने की। अगर आप 10 साल पहले मुझसे पूछते कि क्या मैं आज यहाँ पहुँच पाउँगा, तो मैं यह सपने में भी नहीं सोच सकता था।”

पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेला टेस्ट

भारतीय कप्तान विराट कोहली वर्तमान समय में दुनिया के सबसे बेहतरी बल्लेबाज माने जाते हैं लेकिन उन्होंने अभी तक पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच नहीं खेला है। भारत के लीये 2011 में टेस्ट डेब्यू करने वाले विराट कोहली ने अभी तक 71 टेस्ट मैच खेले हैं। 2008 के मुंबई हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से सारे क्रिकेटिंग रिश्ते तोड़ दिए थे। इसके बाद भारत ने उनके साथ एक सीरीज जरुर खेला लेकिन उसमें टेस्ट मैच नहीं था।

दुनिया भर में रन बना चुके हैं कोहली

टेस्ट मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों का सामना करना चाहते हैं विराट कोहली 2

विराट कोहली इस समय दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज माने जाते हैं। उन्होंने टेस्ट, वनडे और टी-20 सभी फॉर्मेट दुनिया भर में रन बनाये हैं। 2014 में इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट में उनका बल्ला खामोश रहा था लेकिन इस बार 5 मैचों में करीब 600 रन बनाकर उन्होंने अपनी काबिलियत दिखा दी।

Related posts

Leave a Reply