Ind vs sa virat kohli talks about drs controversy on dean elgar wicket

IND vs SA: टीम इंडिया को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज (IND vs SA) में 2-1 से करारी मात मिली है। तीसरे टेस्ट मैच में मेजबान टीम ने भारत को 7 विकेट से करारी मात दी। वहीं, इस मैच में DRS विवाद को लेकर आलोचना का शिकार हो रहे Virat Kohli ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए करारा जवाब दिया है।

डीन एल्गर DRS पर हुआ था विवाद

IND vs SA: DRS विवाद पर आखिरकार Virat Kohli ने तोड़ी अपनी चुप्पी, आलोचकों को दिया करारा जवाब 1

 

मुकाबले के तीसरे दिन विवाद उस वक्त बढ़ गया, जब तीसरे अंपायर ने डीन एल्गर (Dean Elgar) को डीआरएस (DRS) के बाद नॉट आउट करार दिया। हालांकि, रीप्ले में साफ दिख रहा था कि इम्पैक्ट और पिचिंग इन लाइन लेकिन बॉल स्टंप्स पर नहीं लग रही थी जिसके बाद विराट कोहली (Virat Kohli) पूरी तरह से भड़क गए। अब इस पर जवाब विराट कोहली (Virat Kohli) ने खुद दिया है।

विराट कोहली ने किया अपना बचाव

virat kohli

मैच के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने इस मामले पर खुलकर बात की। उन्होंने अपना बचाव करते हुए कहा कि बाहर बैठे लोगों यह बिल्कुल नहीं पता है कि मैदान पर क्या हुआ था। विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा,

“इस मामले पर मुझे कुछ नहीं कहना है। हम इस बात को जानते हैं कि मैदान पर क्या हुआ था। बाहर बैठे लोगों को जानकारी तक नहीं होती है कि मैदान पर क्या चल रहा है। मेरे लिए मैदान पर हमने जो कुछ किया उसे सही ठहराने की कोशिश करना और यह कहना कि हम भावनाओं में बह गये …।’

इसके बाद उन्होंने अपनी बातों को अधूरा छोड़ दिया। इसके बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने आगे कहा,

“अगर उस समय हम हावी हो जाते और तीन विकेट हासिल कर लेते तो खेल की दिशा बदल सकती थी।”

दबाव ना बना पाने की वजह से हारे

virat kohli

विराट कोहली (Virat Kohli) ने यह भी बताया कि आखिर क्यों भारतीय टीम को हार मिली। 99 टेस्ट मैच खेलने वाले विराट कोहली ने कहा कि सच्चाई तो यही है कि इस मैच में हमने लंबे समय तक दबाव बनाकर नहीं रखा और यही कारण है कि इस मैच को हम हार गए।

टेस्ट सीरीज के बाद अब वनडे की बारी

KL Rahul captain virat kohli

आपको बता दें कि पहला टेस्ट मैच टीम इंडिया ने 113 रनों से जीता था जबकि बाकी के दोनों मुकाबले भारत ने 7-7 विकेट से गंवाए हैं। अब दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जानी है और इसकी शुरुआत 19 जनवरी से होगी।