विराट कोहली

भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट मैच को इंग्लैंड ने बड़ी ही आसानी से जीतकर अपने नाम कर लिया। इसी के साथ भारत ना केवल 0-1 से टेस्ट सीरीज में पीछे हुआ, बल्कि टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के रास्ते भी मुश्किल हो गए। पहले टेस्ट मैच के खत्म होने के बाद कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के क्वालिफिकेशन के लिए हुए बदलाव पर प्रतिक्रिया व्यक्त की।

हमारे कंट्रोल में कुछ नहीं

विराट कोहली

इंग्लैंड के हाथों चेन्नई टेस्ट में मिली करारी हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट्स टेबल में नंबर-1 से खिसककर सीधे नंबर-4 पर आ गई है। भारत के चौथे स्थान पर खिसक जाने के सवाल पर कोहली ने कहा,

“हमारे लिए कुछ भी नहीं बदला है। अगर अचानक आप लॉकडाउन में हैं और नियम बदल जाते हैं तो आपके कंट्रोल में कुछ नहीं होता है। हमारे कंट्रोल में एक ही चीज है और वह हम मैदान पर करते हैं। हम टेबल और बाहर चल रही चीजों को लेकर परेशान नहीं हैं। कुछ चीजों के लिए कोई भी लॉजिक नहीं होता है और आप इसको लेकर घंटों बहस कर सकते हैं, लेकिन जो चीज आपके कंट्रोल में है एक टीम के तौर पर मैदान पर अच्छी क्रिकेट खेलना और हमारा बस यही फोकस है।”

भारत के लिए सीरीज जीतना अहम

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज ही अब टेस्ट चैंपियनशिप में पहुंचने वाली दूसरी फाइनलिस्ट टीम की निर्णायक होने वाली है। भारत को अब यदि चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचना है, तो उन्हें इस सीरीज के बचे हुए तीन मैचों में से एक भी मैच में हार नहीं देखनी।

क्योंकि यहां से अब अगर भारत एक और टेस्ट मैच हारता है, तो भारत का टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के सभी रास्ते बंद हो जाएंगे। यदि इंग्लैंड 3-1, 3-0 या 4-0 से जीत दर्ज करता है तो फाइनल में खेलेगी और इस वक्त इंग्लैंड नंबर-1 पर पहुंच चुकी है। पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक सीरीज जीतने के बाद भारत शीर्ष पर चल रहा था लेकिन अब 68.3 अंक के साथ चौथे स्थान पर खिसक गया है।

लॉकडाउन के दौरान बदले थे नियम

विराट कोहली

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत अगस्त 2019 में एशेज के साथ हुई थी। भारतीय टीम ने इसके बाद घर पर साउथ अफ्रीका, बांग्लादेश को हराया। हालांकि फिर भारत को न्यूजीलैंड में टेस्ट सीरीज में हार का सामना करना पड़ा। मगर फिर भी टीम आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट्स टेबल में नंबर-1 पर बनी हुई थी। ऑस्ट्रेलिया में भी भारत ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की, लेकिन इंग्लैंड के हाथों 227 रनों से मिली करारी हार के बाद वह सीधे टेबल के चौथे स्थान पर आ गई।

लेकिन लॉकडाउन के दौरान आईसीसी ने फाइनल में पहुंचने के लिए नियमों में बदलाव किया। आईसीसी ने चैंपियनशिप की रैंकिंग का आधार प्वॉइंट टेबल से हटाकर जीत के प्रतिशत को कर दिया था।