शानदार फॉर्म और प्रदर्शन के बाद भी ये विश्व रिकॉर्ड इस साल भी नहीं तोड़ पायेंगे कोहली

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

शानदार फॉर्म में चल रहे विराट कोहली इस साल भी नहीं तोड़ पायेंगे ये विश्व रिकॉर्ड 

शानदार फॉर्म में चल रहे विराट कोहली इस साल भी नहीं तोड़ पायेंगे ये विश्व रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली इन दिनों जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं। विराट कोहली जिस रफ्तार से रन बना रहे हैं वो तो देखते ही बनता है। वैसे तो विराट कोहली पिछले कई सालों ने शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन जब बात की जाए साल 2017 की तो इस साल तो विराट कोहली का बल्ला कुछ अलग ही करने को बेकरार है। विराट कोहली ने इस साल तो हर फॉर्मेट में शानदार बल्लेबाजी की है।

विराट कोहली इस साल एक रिकॉर्ड नहीं कर पाएंगे हासिल

विराट कोहली ने इस साल तो शुरूआत से ही शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया है और पूरे सालभर खेलते ही रहे। विराट कोहली इस साल अपनी सबसे प्रचंड फॉर्म में है और तीनों ही फॉर्मेट में दनादन रन बरसा रहे हैं। लेकिन इसके बाद भी विराट कोहली एक रिकॉर्ड में अपना पूरा जोर लगाने के बाद भी नहीं पहुंच पाएंगे।

विराट कोहली एक केलेंडर ईयर में सर्वाधिक मैच खेलने के रिकॉर्ड से रह जाएंगे वंचित

पिछले कुछ सालों से क्रिकेट के तीनों ही फॉर्मेट में मैचों की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है। खिलाड़ियों को बहुत मैच खेलने को मिल रहे हैं। इसके बाद भी शानदार फॉर्म में चल रहे भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा मैच खेलने के रिकॉर्ड की बराबरी पर भी नहीं पहुंच पाएंगे।

कोहली ने इस साल खेल लिए हैं अपने सर्वाधिक मैच

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस साल अब तक 44 मैच खेल लिए हैं। इसमें कोहली ने 8 टेस्ट 26 वनजे और 10 टी-20 मैच खेले हैं। विराट कोहली के लिए ये एक कैलेडर ईयर में सबसे ज्यादा मैच हैं इससे पहले विराट ने साल 2011 और 2013 में 43-43 मैच खेले थे। भले ही विराट कोहली ने इस साल 44 मैच अब तक खेल लिए हैं लेकिन वो साल के अंत तक एक साल में सर्वाधिक मैच के विश्व रिकॉर्ड तक नहीं पहुंच पाएंगे।

लेकिन नहीं पहुंच पाएंगे एक साल में 53 मैचों के विश्व रिकॉर्ड पर 

विराट कोहली को इस साल अब तक श्रीलंका के खिलाफ बाकी बचे 2 टेस्ट 3 वनडे और 3 टी-20 मैच खेलने हैं लेकिन इसके बाद भी ये आंकड़ा 52 तक पहुंचेगा जो एक केलेंडर ईयर में विश्व रिकॉर्ड 53 मैचों से एक मैच कम रह जाएगा। इस विश्व रिकॉर्ड तक अभी तक तो राहुल द्रविड़ मोहम्मद युसुफ और महेन्द्र सिंह धोनी ही पहुंचे हैं जो संयुक्त रूप से सर्वाधिक 53 मैच खेल सके हैं।

द्रविड़, युसुफ और धोनी ने संयुक्त रूप से खेले हैं एक केलेडर ईयर में सर्वाधिक मैच

राहुल द्रविड़ ने साल 1999 में एक केलेडर ईयर में सर्वाधिक 53 मैच खेलने का रिकॉर्ड बनाया था जिसमें द्रविड़ ने 43 वनडे और 10 टेस्ट मैच खेले थे। इसके बाद पाकिस्तान के मोहम्मद युसुफ ने साल 2000 में इस आंकड़े को छुआ, लेकिन आगे नहीं बढ़ सके। वहीं 2007 में महेन्द्र सिंह धोनी ने 53 मैच एक साल में खेलने का कारनामा किया, लेकिन धोनी भी इससे ज्यादा नहीं खेल सके।

अब तक 20 बार हो चुका है एक साल में 50 से ज्यादा मैच खेलने का कारनामा

इसके अलावा जब बात की जाए एक केलेडर ईयर में सर्वाधिक मैच खेलना तो अब तक के क्रिकेट इतिहास में 20 बार ऐसा हो चुका है जब किसी खिलाड़ी ने 50 या उससे ज्यादा मैच एक साल में खेले हैं। इसमें सबसे ज्यादा तीन बार श्रीलंका के कुमार संगकारा ने किया है।

जो एक साल में मैचों का पचासा लगाने में कामयाब रहे। वहीं भारत की तरफ से ऐसा चार खिलाड़ियों सचिन,द्रविड़, गांगुली और धोनी ने किया है। दुनिया में ऐसा पहली बार सचिन ने साल 1997 में किया जब सचिन ने 51 मैच खेले थे।

Related posts

Leave a Reply