चहल और कुलदीप की जोड़ी के साथ ही खेलते रहे कोहली: हरभजन सिंह

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

WORLD CUP 2019: चहल और कुलदीप की जोड़ी के साथ ही खेलते रहे कोहली: हरभजन सिंह 

WORLD CUP 2019: चहल और कुलदीप की जोड़ी के साथ ही खेलते रहे कोहली: हरभजन सिंह

मौजूदा समय में एकदिवसीय विश्व कप में भारतीय टीम की धूम मची हुई हैं. बल्लेबाजो के साथ साथ गेंदबाजो ने अभी तक काफी जोरदार खेल दिखाया हैं. टीम ने अभी तक टूर्नामेंट में कुल चार मैच खेले हैं और इस दौरान टीम ने तीन में जीत दर्ज की हैं. एक मैच बारिश के चलते रद्द हुआ हैं.

बल्लेबाजी में जहाँ रोहित शर्मा और विराट कोहली लगातार रनों की बारिश कर रहे हैं, तो गेंदबाजी में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी लगातार टीम की सफलता में एक अहम किरदार अदा कर रही हैं.

भज्जी ने कहा यह जोड़ी हैं नंबर 1 

यजुवेंद्र चहल

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल अभी तक इस टूर्नामेंट में कुल मिलाकर 9 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. इस दौरान कुलदीप के खाते में तीन, जबकि चहल के खाते में सबसे ज्यादा छह विकेट आए हैं. पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले यह बात क्रिकेट के बाजार में चल रही थी कुलदीप यादव के स्थान पर मोहम्मद शमी को अंतिम ग्यारह में मौका देना चाहिए. इस पर हरभजन सिंह ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा था,

”कुलदीप -चहल की जोड़ी बहुत बढ़िया हैं. बीते ढाई सालों में इन दोनों ने टीम इंडिया को कई मुकाबलें जीताये हैं. मैं यही चाहता हूँ कि हर मैच में यह दोनों एक साथ खेले, किसी भी टीम के पास मध्य ओवर में स्पिन खेलना का हुनर मौजूद नहीं हैं.”

इंग्लैंड के हालात हैं इनके लिए बेहतर 

युजवेंद्र चहल

हरभजन सिंह ने आगे कहा, कि इंग्लैंड की परिस्तिथियां इन दोनों के लिए इनके दोनों के लिए कारगर सिद्ध होगी. हरभजन ने अपने बयान में कहा, ”जब भी जोड़ी इस साथ खेलती हैं टीम को फायदा पहुंचता हैं. इंग्लैंड के हालात भी इनके लिए फायदेमंद हैं, क्योंकि यह रिस्ट स्पिनर हैं. अगर भारतीय टीम अपनी बेस्ट XI बनाने की सोचेगी तो इस जोड़ी का नाम इसमें जरुर शुमार होगा.

इस बात में कोई शक नहीं हैं कि यह दोनों लम्बी रेस के घोड़े हैं और दोनों के पास टैलेंट की कोई कमी नहीं हैं. रवि शास्त्री ने अपने एक बयान में यह कहा था कि यह दोनों नंबर 1 गेंदबाज हैं.”

भारत को हराना नहीं हैं आसान

हरभजन सिंह ने आगे कहा कि टीम इंडिया को हराना किसी भी टीम के लिए आसान बात नहीं हैं. अगर आप भारत को मात देना चाहते हैं, तो आपको उस दिन A गेम दिखाना होगा. भज्जी ने कहा,

भारतीय टीम को हराने के लिए आपको ‘A’ केटेगरी का खेल दिखाना पड़ेगा. मौजूदा समय में भारतीय टीम को हराना बहुत कठिन काम हैं.”

 

 

Related posts