आने वाले समय में टेस्ट क्रिकेट के कई रिकॉर्ड तोड़ेंगे विराट कोहली : लक्ष्मण | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आने वाले समय में टेस्ट क्रिकेट के कई रिकॉर्ड तोड़ेंगे विराट कोहली : लक्ष्मण 

आने वाले समय में टेस्ट क्रिकेट के कई रिकॉर्ड तोड़ेंगे विराट कोहली : लक्ष्मण

पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण अपने समय के शानदार बल्लेबाज़ थे, उन्हें एकदिवसीय क्रिकेट में इतना मौका नहीं मिला लेकिन टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने भारत के लिए कई यादगार पारियां खेली है और खासकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनका प्रदर्शन सर्वश्रेष्ट था.

लक्ष्मण ने भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली की काफी तारिफ की हैं. विराट कोहली का वनडे और टी ट्वेंटी में औसत 50 के उपर हैं, और टेस्ट में 44 का हैं.

यह भी पढ़े : धोनी की बायोपिक में गांगुली, द्रविड़ और लक्ष्मण के साथ ये क्या हुआ  

लक्ष्मण ने कहा, कि

“विराट कोहली खुदपर काफी विश्वास रखते हैं, और उनमे अच्छा करने की काफी लगन हैं. अगर आप तीनों फॉरमेट में निरंतरता से रन बनाते हैं, तो आप कितने अच्छे हैं ये पता चलता हैं.मुझे लगता हैं विराट टेस्ट में और भी अच्छा कर सकते हैं, और वे सारें रिकॉर्ड तोड़ देंगे. उनका औसत वनडे में जैसा हैं वैसा टेस्ट में हुआ तो कमाल हो जाएगा.”

लोकश राहुल में जो बदलाव आया हैं उसके बारें में भी लक्ष्मण ने बात की. लोकेश राहुल ने सभी को चौकाते हुए इस साल के आईपीएल में काफी आक्रमक क्रिकेट खेला, और उनमे ये परिवर्तन विराट कोहली के वजह से आया.

यह भी पढ़े : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने निकला बल्लेबाज़ी सुधारने का नया तरीका

लक्ष्मण ने कहा, कि

“टी ट्वेंटी में राहुल अब काफी अच्छा करने लगे हैं. और मुझे लगता हैं इसमे विराट कोहली का हाथ हैं. अब राहुल तीनों फॉरमेट में अच्छा करने की क्षमता रखते हैं.”

गुलाबी गेंद टेस्ट मैच पर लक्ष्मण ने कहा, भारत में ओस काफी गिरती हैं, और ये महत्वपूर्ण बात हैं. दुलीप ट्रॉफी में जो गुलाबी गेंद का इस्तेमाल किया गया, वो जो न्यूजीलैंड और अॉस्ट्रेलिया के मैच में इस्तेमाल की गयी थी, उससे अलग थी. भारत में पिच पर ज्यादा घास नहीं होती, और गुलाबी गेंद से भारत में मुश्किल होगी. लेकिन हमे काफी देखना होगा, और तब हम कुछ विचार कर सकते हैं.

विदेश में भारत के प्रदर्शन पर लक्ष्मण ने कहा,

“जॉन राईट भारत के पहले विदेशी कोच थे, और उन्होंने हमारी मानसिकता बदली. उन्होंने मानसिक तौर पर हमे काफी मजबूत किया, और तबसे हम विदेशों में अच्छा प्रदर्शन करने लगे. और इसका श्रेय जॉन राईट को जाता हैं.”

Related posts