वीरेंद्र सहवाग ने अपने ही अंदाज़ में की विराट कोहली की प्रशंसा

Gautam / 17 May 2016

रनों का पीछा करने का दूसरा नाम है विराट कोहली, भारतीय बल्लेबाजी स्टार विराट कोहली रनों के पीछा जिस शानदार अंदाज़ से करते है उसे देखकर  कोई भी यह अनुमान लगा सकता है कि सिमित ओवरों के खेल में विराट कोहली से अच्छा कोई बल्लेबाज़ नहीं हैं.

कोलकता के ईडन गार्डन में नाईट राइडर्स के घरेलु मैदान पर जिस तरह कोहली ने लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज की वह देखने योग्य थी.

नजफ़गढ़ के नवाब वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय टीम के सबसे शानदार बल्लेबाज़ की प्रशंसा फिमली अंदाज़ में किया, सहवाग ने एक हिंदी फिल्म के संवाद का प्रयोग किया और लिखा “डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है पर विराट कोहली जैसे रन चेज करते हैं, डॉन को भी पकड़ सकते हैं”

हाल में हुए एक कार्यकम के दौरान सहवाग ने कहा विराट कोहली की सचिन तेंदुलकर से तुलता करना उचित नहीं होगा. सहवाग ने कहा- “किसी दो व्यतिगत लोगो की तुलना नहीं करनी चाहिए. कुछ लोग मेरी तुलना सचिन और विवियन रिचर्ड्स से करते थे, यह सही नहीं हैं, हर समय एक सामान नहीं होता है. मुझे नहीं लगता हमे कोहली की तुलना सचिन से करनी चाहिए”.

कोहली को कोलकता नाईट राइडर्स के विरुद्ध नाबाद 75 पारी खेलने के लिए “मैन ऑफ़ दि मैच” चुना गया था.
कोहली ने मैच के बाद होने वाले इंटरव्यू में कहा “यह कपटी रन चेस था, क्यूंकि पिच स्पिन गेंदबाजों की पकड़ में थी. मुझे पता था, कि हमे पिच पर रुकना होगा. हमे एक अच्छी पार्टनरशिप की जरुरत थी जोकि मेरे और डीविलिएर्स के बीच हुई, एक और 100 रन की पार्टनरशिप बनी और हम मैच जीते, हम पहले  कोलकता में अच्छा नहीं खेले हैं, तो इस  जीत से बहुत अच्छा महसूस हो रहा हैं, सही समय पर गेल की फॉर्म वापिस आना, बैंगलोर के लिए सबसे ज्यादा ख़ुशी की बात हैं”.