वीरेन्द्र सहवाग ने 2002 में भारतीय टीम के टीम मैनेजर की नियुक्ति पर उठाया सवाल

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

वीरेन्द्र सहवाग ने 2002 में भारतीय टीम के टीम मैनेजर की नियुक्ति पर उठाया सवाल, खोले कई राज 

वीरेन्द्र सहवाग ने 2002 में भारतीय टीम के टीम मैनेजर की नियुक्ति पर उठाया सवाल, खोले कई राज

विश्व कप 2019 की शुरुआत हो चुकी है. इस बार का विश्व कप इंग्लैंड और वेल्स में खेला जा रहा है. इस विश्व कप का फाइनल मैच 14 जुलाई को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जायेगा. भारतीय टीम ने कल ऑस्ट्रेलिया की टीम को हरा कर इस विश्व कप में लगातार दूसरी जीत दर्ज की है. मैच में कमेंट्री कर रहे वीरेन्द्र सहवाग ने एक बड़ा खुलासा किया.

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की टीम के खिलाफ दर्ज की जीत

वीरेन्द्र सहवाग ने 2002 में भारतीय टीम के टीम मैनेजर की नियुक्ति पर उठाया सवाल, खोले कई राज 1

इस विश्व कप के 14वें मैच में भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीम आमने सामने थी. इस मैच में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. पहले बल्लेबाजी का फैसला भारतीय टीम का सही साबित हुआ.

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के 117 रन और विराट कोहली के 82 रनों के मदद से भारतीय टीम ने 50 ओवर में 5 विकेट खोकर 352 रन बनाए.

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया की तरफ से स्टीव स्मिथ ने 69 रन और एलेक्स कैरी के 55 रनों के बावजूद ऑस्ट्रेलिया की टीम ये मैच 36 रनों से हार गयी. शिखर धवन को मैन ऑफ द मैच चुना गया. ये भारतीय टीम की इस विश्व कप में लगातार दूसरी जीत है.

वीरेन्द्र सहवाग ने बताया इस मजेदार वाकया

वीरेन्द्र सहवाग ने 2002 में भारतीय टीम के टीम मैनेजर की नियुक्ति पर उठाया सवाल, खोले कई राज 2

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए मैच में कमेंट्री करने के दौरान पूर्व भारतीय खिलाड़ी वीरेन्द्र सहवाग ने बताया कि

” 2002 के नेटवेस्ट ट्रॉफी के दौरान कोच जॉन राइट ने मेरा कॉलर पकड़ लिया था. जिसके बाद बहुत बड़ा विवाद हो गया टीम के सभी खिलाड़ी कोच के खिलाफ हो गये. उस टूर पर हमारे मैनेजर राजीव शुक्ला थे.”

उन्होंने आगे कहा कि

” जिन्हें उस समय क्रिकेट के बारे में कुछ पता ही नहीं था. फिर भी वो हमारे टीम मैनेजर थे. उन्होंने पुराने टीम मैनेजर से बात करके इस मामले को समझा और जॉन राइट से माफ़ी मंगवाई मेरा दिल भी बहुत बड़ा था और मैंने उन्हें माफ़ कर दिया.”

क्या था वीरेन्द्र सहवाग और जॉन राइट का मामला

वीरेन्द्र सहवाग

2002 में इंग्लैंड में हो रहे नेटवेस्ट ट्रॉफी में भारतीय टीम के कोच जॉन राइट ने सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग से कहा धीरे धीरे खेलना और मैच खत्म करके आना लेकिन सहवाग छक्का मारने के चक्कर में आउट हो कर जब पवेलियन गये तो कोच जॉन राइट ने सहवाग का कॉलर पकड़ लिया था.

Related posts