वीरेंद्र सहवाग ने बताया कैसे टीम इंडिया को आईपीएल के कारण मिला ये बड़ा मैच विनर 1

देखते ही देखते आईपीएल ने दस साल पूरे हो कर लिए हैं। इन दस सालों में आईपीएल का काफी रोमांच सफर रहा है। इसने न जाने कितने खिलाड़ियों, फ्रेंचाईजियों और टीम के सदस्यों को ऊंचाईयों तक पहुंचाने में मदद की है। इसने भारत के साथ ही विश्व के तमाम बेहतरीन खिलाड़ियों को खुद को साबित करने का मौका दिया है। किंग्स इलेवन पंजाब कोच वीरेन्द्र सहवाग का भी यही मानना है।  पुणे के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार के बाद धोनी के लिए ये क्या बोल बैठे शिखर धवन

एक प्रेस कॉन्फ्रेस में वीरेन्द्र सहवाग ने कहा, “आईपीएल के इन दस सालों में बहुत कुछ बदला है। इस लम्बे सफर में कई खिलाड़ियों को खुद को बेहतर साबित करने का मौका मिला है। भारत की ओर से रवीन्द्र जडेजा और यूसुफ पठान जैसे कई खिलाड़ियों ने खुद को यहां से तराश कर अंर्तराष्ट्रीय टीम में जगह बनायी। अगर विदेश खिलाड़ियों को देखें तो मैक्सवेल जैसे कई खिलाड़ियों को बेहतर मौका मिला है।”

वीरेंद्र सहवाग ने बताया कैसे टीम इंडिया को आईपीएल के कारण मिला ये बड़ा मैच विनर 2

उन्होंने कहा, “यह सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के लिए ही नहीं बल्कि विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी काफी फायदेमंद साबित रहा है। जब विदेशी खिलाड़ी यहां अच्छा प्रदर्शन करते हैं तब उन्हें अपने देश में खेलने का बेहतर मौका मिल पाता है। इसी वजह से उनका देश उन खिलाड़ियों पर ध्यान भी देता है।”   लगातार दूसरी शर्मनाक हार के बाद इनपर फूटा कप्तान विराट कोहली का गुस्सा, सरेआम इन्हें ठहराया हार का ज़िम्मेदार

सहवाग ने भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करते हुए कहा, ”हर खिलाड़ी चाहता है कि वह वनडे और टेस्ट क्रिकेट भी खेले। अगर भारत में देखा जाये तो ऐसा कोई खिलाड़ी नहीं होगा जो सिर्फ टी-20 मैच खेलना चाहता है। इस मामले में विदेश खिलाड़ियों के बारे में कुछ नहीं कह सकता हूं। इस प्लेटफॉर्म पर आते ही भारत के खिलाड़ी चाहते हैं कि यहां अच्छा प्रदर्शन करने के बाद वनडे और टेस्ट मैच खेला जाये। और निश्चित तौर आईपीएल ने कई खिलाड़ियो को मौक दिया है।”