//

केएल राहुल से सीखें ऋषभ पंत, सिर्फ बोलना परिस्थिति के अनुसार खेलना नहीं होता: वीरेंद्र सहवाग

वीरेंद्र सहवाग

भारतीय टीम के लिए केएल राहुल वनडे के बाद टी-20 में भी विकेटकीपिंग कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुंबई वनडे में ऋषभ पंत चोट की वजह से विकेटकीपिंग नहीं कर पाए थे। उस मुकाबले के बाद राहुल ने दूसरे मैच में कीपिंग और बल्ले से अच्छा प्रदर्शन किया। अब पंत के फिट होने के बाद भी विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट राहुल को ही विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर मौका दे रहे हैं।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

बल्ले से शानदार लय में

केएल राहुल

केएल राहुल बल्ले से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के बाद से लगातार रन बनाए हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले दोनों मैचों में उनके बल्ले से अर्धशतक निकला। दूसरे मैच में उन्हें मैन ऑफ द मैच को अवॉर्ड भी मिला।

इसके साथ ही विकेट के पीछे भी राहुल का प्रदर्शन अच्छा रहा है। उन्होने अपने करियर की शुरुआत विकेटकीपर के रूप में ही की थी। अंडर-19 विश्व कप 2010 में राहुल ही भारतीय टीम के विकेटकीपर थे।

पंत को सीखने की जरूरत

वीरेन्द्र सहवाग

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का कहना है कि ऋषभ पंत को केएल राहुल से सीखने की जरूरत है। राहुल मैच की परिस्थिति को समझ कर खेलने की जरुरत है। उन्होंने क्रिकबज से बात करते हुए कहा

“मुझे सबसे अच्छी चीज लगी कि 50 गेंदों में 57 रन बनाए और पहले मैच में 25 गेंद पर 52 रन बनाए थे। ऋषभ पंत बोलते हैं कि वह परिस्थिति के अनुसार खेलते हैं लेकिन मैंने ऐसा आज तक नहीं देखा है। लेकिन ये परिस्थिति के अनुरूप खेल रहे हैं। उनको मालूम है कि जल्दी नहीं है और यह परिस्थिति के अनुसार खेलना होता है ना कि बोलना। शायद विकेटकीपिंग की वजह से यह फर्क आया है।”

पंत की वापसी मुश्किल

केएल राहुल से सीखें ऋषभ पंत, सिर्फ बोलना परिस्थिति के अनुसार खेलना नहीं होता: वीरेंद्र सहवाग 1

रिद्धिमान साहा की वापसी की वजह से ऋषभ पंत पहले ही टेस्ट की प्लेइंग इलेवन से बाहर चल रहे हैं। महेंद्र सिंह धोनी के भारतीय टीम से बाहर होने के बाद से वह वनडे और टी-20 में लगातार खेल रहे थे। अब राहुल ने उनकी जगह ले ली है। उनकी प्लेइंग इलेवन में कब वापसी होगी, यह बड़ा सवाल बना हुआ है।