वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद इन दो गेंदबाजों की जमकर तारीफ की

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद इन दो गेंदबाजों की जमकर तारीफ की 

वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद इन दो गेंदबाजों की जमकर तारीफ की

भारत ने टी-20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका पर 7 विकेट से जीत दर्ज की। 72 रनों की पारी खेलने के लिए विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच का अवार्ड मिला और लगातार उनकी ही बात हो रही है। लेकिन इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आसान पिच पर दक्षिण अफ्रीका को 149 रनों पर ही रोक दिया।

लक्ष्मण ने की तारीफ

वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद इन दो गेंदबाजों की जमकर तारीफ की 1

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने दीपक चाहर और वॉशिंगटन सुंदर के गेंदबाजी की तारीफ की है। दक्षिण अफ्रीका ने तेज शुरुआत की थी लेकिन इसके बावजूद भारतीय गेंदबाजों ने उनपर लगाम लगा दिया। चाहर ने 4 ओवर में 22 रन देकर दो विकेट लिए वहीं सुंदर ने 3 ओवर में 19 रन ही खर्च किये। लक्ष्मण ने टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में लिखा

“दीपक चाहर और वॉशिंगटन सुंदर का योगदान कम नहीं आँका जाना चाहिए। चाहर ने नई और पुरानी दोनों ही गेंदों से उनकी लेंथ काफी बेहतरीन थी और गति में अच्छा परिवर्तन किया। सबसे अच्छी बवुमा के विकेट वाली नकल बॉल थी। सुंदर लंबा टर्न नहीं कराते क्रीज की मदद से एंगल बनाकर बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी करते हैं और अपनी लंबाई का भी फायदा उठाते हैं।”

मिलर से ज्यादा उम्मीद थी

वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद इन दो गेंदबाजों की जमकर तारीफ की 2

दक्षिण अफ्रीका की टीम युवा खिलाड़ियों से भरी है और कप्तान के रूप में क्विंटन डी कॉक का भी यह पहला मैच था। वीवीएस लक्ष्मण उनके खेल के तरीके से काफी प्रभावित हुए। हालाँकि, डेविड मिलर से उन्हें बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी। मिलर आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हैं, फिर भी मोहाली में 15 गेंद में 18 रन ही बना पाए। वीवीएस ने इन दोनों और दक्षिण अफ्रीका के बारे में लिखा

“क्विंटन डी कॉक स्वभाविक रूप से आक्रामक खिलाड़ी हैं और कप्तानी की जिम्मेदारी के बाद भी अच्छा खेल दिखाया, लेकिन दक्षिण अफ्रीका डेविड मिलर से और ज्यादा उम्मीद कर रही होगी। वह काफी समय से किंग्स इलेवन पंजाब के साथ रहे हैं और अंत तक बल्लेबाजी करते तो दक्षिण अफ्रीका 170 के करीब पहुँच सकती थी।”

Related posts