भारतीय अंडर-19 टीम जज्बे पर फिदा हुए वीवीएस लक्ष्मण, 6 खिलाड़ियों के बाहर होने के बाद भी दर्ज की शानदार जीत 1

वेस्टइंडीज में इन दिनों जूनियर क्रिकेटर्स अपना जलवा दिखा रहे हैं। जहां आईसीसी अंडर-19 विश्व कप खेला जा रहा है। इस अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में भारतीय जूनियर टीम का कमाल का प्रदर्शन जारी है। भारत की अंडर-19 टीम यहां इस विश्व कप में खिताब जीतने के दावेदार के रूप में उतरी है।

भारतीय अंडर-19 टीम का जोरदार प्रदर्शन

जूनियर टीम इंडिया ने विश्व कप के लीग स्टेज में अपने ग्रुप बी के पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को मात देने के बाद दूसरे मैच में भी जोरदार प्रदर्शन करते हुए आयरलैंड को 174 रन के बड़े अंतर से हरा दिया।

भारतीय अंडर-19 टीम जज्बे पर फिदा हुए वीवीएस लक्ष्मण, 6 खिलाड़ियों के बाहर होने के बाद भी दर्ज की शानदार जीत 2

इससे पहले भारतीय अंडर-19 टीम ने अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 45 रन से हराया था। भारत की जूनियर टीम का कमाल का प्रदर्शन जारी रहा। जहां दूसरे मैच में उनके सामने एक बड़ी विपरित परिस्थिति आने के बाद भी संपूर्ण प्रदर्शन करते हुए अपने जज्बे का प्रदर्शन किया।

6 खिलाड़ियों के बाहर होने के बाद भी शानदार खेल

दरअसल भारतीय टीम की स्क्वॉड में 6 खिलाड़ियों को कोरोना पॉजिटिव आने के बाद दूसरे मैच से हटना पड़ा। जिसमें कप्तान यश ढुल्ल और उपकप्तान शेख रशीद के साथ ही 4 अन्य खिलाड़ी कोरोना की चपेट में आ गए जिससे वो दूसरे मैच में अंतिम समय में टीम से बाहर हो गए।

भारतीय अंडर-19 टीम जज्बे पर फिदा हुए वीवीएस लक्ष्मण, 6 खिलाड़ियों के बाहर होने के बाद भी दर्ज की शानदार जीत 3

इसके बाद भारत की अंडर-19 टीम मैनेजमेंट के सामने 11 खिलाड़ी पूरे करना ही एक बड़ी चुनौती थी। ऐसे में जैसे-तैसे भारत ने अपने 111 खिलाड़ी पूरे कर मैदान में तो उतार दिए, लेकिन इतनी आसानी से जीत हासिल करना काफी बड़ी बात है। भारत के इसी जज्बे को पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने जमकर सराहा है।

वीवीएस लक्ष्मण हुए जूनियर टीम इंडिया के मुरिद

नेशनल क्रिकेट एकेडमी के चीफ वीवीएस लक्ष्मण ने ट्वीट कर लिखा कि

“अंडर-19 टीम ने जबरदस्त जज्बा और परिपक्वता दिखायी। आज के मैच में केवल 11 खिलाड़ी ही खेलने के लिये उपलब्ध थे और उन्होंने जिस तरह से (जीतकर) खुद को व्यक्त किया, वो शानदार था।”

“कह नहीं सकता कि मुझे उन पर कितना गर्व महसूस हो रहा है। आयरलैंड का मैच ऐसा मुकाबला है जिसे वे जिंदगी भर याद रखेंगे।”