हमे फील्डिंग कोच की जरुरत हैं : मिताली राज

Gautam / 04 June 2016

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज को लगता है, कि भारतीय महिला टीम में काफी क्षमता है, अगर टीम को एक फील्डिंग कोच मिल जाये तो, यह टीम फील्डिंग में और सुधार कर सकती हैं.  आईसीसी टी-ट्वेंटी विश्वकप के दौरान टीम फील्डिंग कुछ खास नहीं रही थी.

मिताली ने कहा हाल में हुए टी-ट्वेंटी विश्वकप के बाद, मुझे लगता है कि हमे निश्चित रूप में एक फील्डिंग कोच की जरुरत हैं. फील्डिंग कोच और सहायक कोच बीसीसीआई पर निर्भर करते है, कि वह क्या फैसला लेते हैं. यह जरुरी है कि विश्वकप के दौरान जो हमारे पास था हमे उस से अधिक की आवश्कता हैं. हम अपने फील्डिंग विभाग में बेहद अधिक मेहनत कर रहे हैं.

टीम के क्रिकेट कार्यक्रम पर बात करते हुए मिताली ने कहा वास्तव में हम नहीं चाहते कि हम 10 महीनो तक क्रिकेट में व्यस्त रहे लेकिन हां, मुझे लगता है कि हमे इस वर्ष  2-3 श्रृंखला की बजाय कुछ और श्रृंखला खेलनी को मिलनी  चाहिए. श्रृंखला के बीच कुछ समय भी होना चाहिए, यह नहीं होने चाहिए की या तो श्रृंखला ना हो ,अगर हो तो एक के बाद एक हो. श्रृंखला के बीच इतना समय होना चाहिए कि खिलाड़ी अगली श्रृंखला की तैयारी कर सके.

अंडर-23 कैंप के बारे में बात करते हुए मिताली ने कहा इस घोषणा का सबसे अच्छा भाग रहा अंडर-23 कैंप, क्यूंकि, अगर तुम देखे तो, अंडर19 लेवल के बाद लड़कियों ने सीधे सीनियर लेवल पर जम्प लगाई हैं. अंडर 23 एक ऐसा मंच है जिसमें 4 वर्षो में खिलाड़ी धीरे-धीरे प्रगति करके सीनियर टीम तक की दुरी तय करेगी. तो मुझे लगता है कि बीसीसीआई ने यह बेहद अच्छा कदम उठाया हैं.

मिताली राज भारतीय महिला टीम की कप्तान होने के साथ-साथ सबसे अनुभवी बल्लेबाज़ भी हैं, मिताली 14 वर्षो से भारतीय टीम की सदस्य हैं. 14 वर्षो के करियर में मिताली ने 164 एकदिवसीय मैचो में लगभग 50 की शानदार औसत से 5301 रन बनाये हैं.
मिताली ने 10 टेस्ट मैचो में 663 रन बनाये है जबकि मिताली ने 59 टी-ट्वेंटी मैचो में 1488 रन बनाएं हैं.         

Related Topics