//

इंग्लैंड दौरे पर जाएगी वेस्टइंडीज टीम, लेकिन मिलेगी सिर्फ आधी सैलरी

West Indies players stand in a moment of silence in respect of former West Indies player Basil Butcher before the start of the 2nd ODI between India and the West Indies held at the ACA-VDCA Stadium, Visakhapatnam on the 18th December 2019. Photo by Vipin Pawar / Sportzpics for BCCI

कोरोना वायरस ने पूरे विश्व में हाहाकार मचा दिया है. इसका सबसे बुरा असर खेलों पर पड़ रहा है, क्योंकि इस वायरस की वजह से दुनियाभर में खेलों को रद्द किया जा रहा है. कई क्रिकेट सीरीज अब तक इस वायरस की भेंट चढ़ चुकी है. दुनियाभर में खेलों का इस तरह रद्द होना निश्चित रूप से प्रशंसकों के लिए एक बहुत बुरी खबर है. हालांकि इसी बीच क्रिकेट प्रशंसकों के लिए एक राहत की खबर आई है.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

वेस्टइंडीज की टीम करेगी इंग्लैंड का दौरा

इंग्लैंड दौरे पर जाएगी वेस्टइंडीज टीम, लेकिन मिलेगी सिर्फ आधी सैलरी 1

वेस्टइंडीज की टीम को जून में इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी थी, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से इस सीरीज को जुलाई में आयोजित कराने का फैसला किया गया है. इंग्लैंड दौरे के लिए वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने हामी भी भर दी है. कोरोना के इस संकट में क्रिकेट प्रशंसकों के लिए निश्चित रूप से यह एक राहत की खबर है. वेस्टइंडीज के खिलाड़ी इंग्लैंड में बायो-सिक्योर एनवायरमेंट में रहेंगे.

क्रिकेट वेस्टइंडीज ने जारी किया बयान

इंग्लैंड दौरे पर जाएगी वेस्टइंडीज टीम, लेकिन मिलेगी सिर्फ आधी सैलरी 2

क्रिकेट वेस्टइंडीज ने अपना एक बयान जारी करते हुए कहा,वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड के प्रस्तावित वेस्टइंडीज टेस्ट दौरे के लिए सैद्धांतिक रूप से मंजूरी दे दी है. यह निर्णय क्रिकेट वेस्टइंडीज चिकित्सा और क्रिकेट से संबंधित प्रतिनिधियों और सलाहकारों द्वारा इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) और अपने स्वयं के चिकित्सा और सार्वजनिक स्वास्थ्य सलाहकारों के साथ विस्तृत चर्चा में शामिल होने के बाद ही आया है.”

कोरोना के कारण कटेगी आधी सैलरी

भारतीय टीम

कोरोना वायरस महामारी से पैदा हुई आर्थिक तंगी की वजह से वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों व सपोर्ट स्टाफ को वेतन देने में अस्थायी रूप से 50 फीसदी की कटौती का ऐलान किया है. ये फैसला वित्तीय रणनीतिक सलाहकार समिति की सिफारिशों के बाद क्रिकेट वेस्टइंडीज के निदेशक बोर्ड की टेली कॉन्फ्रेंस मीटिंग के बाद लिया गया है.