भविष्य के स्टार ऋषभ पंत के लिए अब क्या से क्या हो गया

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

10 दिन पहले तक भी धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखे जा रहे ऋषभ पन्त, आज टीम में जगह बनाने के लिए भी रहे है तरस 

10 दिन पहले तक भी धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखे जा रहे ऋषभ पन्त, आज टीम में जगह बनाने के लिए भी रहे है तरस

एक कहावत है ना… समय बड़ा बलवान है यानि समय के आगे किसी की एक नहीं चलती है। वो चाहे कितना भी बड़ा सूरमा क्यों ना हो। ऐसे ही समय चक्र में भारतीय क्रिकेट टीम के युवा प्रतिभाशाली विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इन दिनों बुरी तरह से चपेट में आ गए हैं जिसके बाद टीम में उनकी जगह को ही लाले पड़ गए हैं।

ऋषभ पंत को पेश किया गया है महेन्द्र सिंह धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में

महेन्द्र सिंह धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में पिछले करीब तीन साल से पेश किए जा रहे ऋषभ पंत को लगातार भारतीय टीम में मौका मिला और उन्हें हमेशा ही भविष्य के सुपर स्टार के रूप में ही पेश किया जाता रहा है।

10 दिन पहले तक भी धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखे जा रहे ऋषभ पन्त, आज टीम में जगह बनाने के लिए भी रहे है तरस 1

करीब सालभर पहले तो ऋषभ पंत ने भारतीय क्रिकेट टीम में तीनों ही फॉर्मेट में जगह बना ली जिनको वनडे विश्व कप तक खेलने का मौका मिला तो वहीं उन्हें टेस्ट क्रिकेट में भी प्रमुखता दी गई इसके बाद तो माना जाने लगा जैसे नए विकेटकीपर की खोज पूरी हो चुकी है।

बड़े नाटकिय अंदाज में मिली टेस्ट में जगह

इसी आस में भारतीय टीम मैनेजमेंट ने ऋषभ पंत को तीनों ही फॉर्मेट में मौका दिया और पंत ने प्लेइंग इलेवन में भी लगातार जगह बनाने में कामयाबी हासिल की। लेकिन इसके बाद जल्द ही पंत को पहले तो टेस्ट से अपना स्थान गंवाना पड़ा जहां वो अपने प्रदर्शन को बरकरार नहीं रख सके।

ऋषभ पंत

वैसे टेस्ट क्रिकेट में उनका आगाज बड़ा ही दिलचस्प कहा जा सकता है जहां पर उन्हें रिद्धीमान साहा की चोट ने जगह दिलायी। इंग्लैंड में दिनेश कार्तिक के साथ बैकअप विकेटकीपर के रूप में गए पंत को वहां जगह मिल गई जिसके बाद उन्होंने बल्ले से प्रभावित किया लेकिन विकेटकीपिंग से निराश किया। इंग्लैंड में टेस्ट शतक भी ठोक डाला।

साहा की वापसी और खुद के खराब प्रदर्शन से टेस्ट में जगह खोई

इसके बाद पंत की जगह पक्की हो गई और ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी गए और वहां भी शतकीय पारी खेली। लेकिन इसके बाद धीरे-धीरे पंत के प्रदर्शन में गिरावट देखने को मिली तो वहीं विकेटकीपिंग में तो उनकी हालात और भी ज्यादा खराब होती गई जो गेंद को सही से कलेक्ट करने में नाकाम होते रहे।

10 दिन पहले तक भी धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखे जा रहे ऋषभ पन्त, आज टीम में जगह बनाने के लिए भी रहे है तरस 2

फिर क्या था, साहा की वापसी ने पंत की मुश्किलें बढ़ा दी और जल्द ही उन्होंने टेस्ट से अपना स्थान खो दिया। इसके बाद पंत को वनडे और टी20 में स्पेशलिस्ट के तौर पर देखा जाने लगा। जहां उन्हें लगातार मौके मिले। लेकिन पंत हैं कि मौके पर मौके मिले लेकिन चौका मारने में सफल नहीं हो सके।

वनडे में चोटिल होने के बाद केएल राहुल का कीपिंग करना पड़ा भारी

इतना ही नहीं बहुत ही कम अनुभव के बाद भी उन्हें विश्व कप जैसा बड़ा टूर्नामेंट खेलने का मौका भी मिला और वहां उनके लिए नायक बनने का खास अवसर था लेकिन कहानी वहीं नाकामी भरी और फिर फैंस उन्हें बाहर करने की मांग करने लगे। पंत पर दबाव बढ़ता गया।

10 दिन पहले तक भी धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखे जा रहे ऋषभ पन्त, आज टीम में जगह बनाने के लिए भी रहे है तरस 3

ऋषभ पंत को फ्लॉप होने के बाद भी टीम मैनेजमेंज के भरोसे पर टीम में जगह बनाते रहे। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज ऋषभ पंत के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं रही जब उन्हें पहले वनडे मैच में चोट लग गई और केएल राहुल को मजबूरी में विकेटकीपिंग करनी पड़ी।

टीम मैनेजमेंट को केएल राहुल ने बतौर विकेटकीपर दिलाया भरोसा, पंत की छुट्टी

अगले मैच में पंत चोटिल थे और टीम मैनेजमेंट ने केएल राहुल को विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में टीम में रखा और उनका ये दांव काम कर गया। राहुल ने विकेट के पीछे और बल्लेबाजी दोनों ही विभागो में अच्छा किया। इसके बाद तीसरे वनडे में पंत जरूर फिट हो गए लेकिन राहुल को ही टीम में विकेटकीपर के रूप में बरकरार रखा गया।

ऋषभ पंत

अब न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत के दस्ते में ऋषभ पंत मौजूद हैं और टी20 सीरीज के लिए तैयार हैं। लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 मैच में विराट कोहली ने केएल राहुल को बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज जगह देकर ऋषभ पंत की छुट्टी कर दी जिससे अब लग रहा है कि पंत के लिए चोट काफी नुकसान कर गई और केएल राहुल का विकेटकीपिंग करना उन्हें भारी पड़ा।

क्या अब पंत की हो पाएगी वापसी?

अब अगर ऋषभ पंत को न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में लगातार बाहर रखा गया और वहीं आईपीएल में महेन्द्र सिंह धोनी ने फिर से अपना जलवा दिखाया तो ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप में धोनी जगह बना लेंगे तो वहीं पंत का टी20 विश्व कप खेलने के सपने को बड़ा झटका लगेगा।

ऋषभ पंत

Related posts