लोग क्यों मुझे खेल से बाहर करना चाहते है: धोनी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

लोग क्यों मुझे खेल से बाहर करना चाहते है: धोनी 

आज रांची में खेले गये दुसरे टी-20 में भारत ने श्रीलंका को 69 रनों के भारी अंतर से हरा कर सीरीज में बराबरी कर ली है, अब 3 मैचो की इस सीरीज में दोनों टीम 1-1 की बराबरी पर है, ऐसे में जो भी टीम तीसरा मैच जीतेगी, वो इस सीरीज की विजेता कहलायेगी.

आज मैच के बाद जब प्रेस कांफ्रेंस में भारतीय वनडे और टी-20 कप्तान धोनी से एक रिपोर्टर ने उनके सन्यास के बारे में पूछा, उस समय इसे लेकर भारतीय कप्तान ने जो जबाब दिया, वो काफी चौकाने वाला था, और उस बयान ने ये साफ़ कर दिया, कि धोनी का अभी क्रिकेट को अलविदा कहने का कोई मन नहीं है, अभी भी क्रिकेट में वो लम्बी पारी खेलने वाले है. भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह ने धोनी ने आज यहां टी-20 फार्मेट से अपने संन्यास की अटकलों को पूरी तरह से खारिज कर दिया और पूछा, ‘‘आखिर हमें क्यों जबरन खेल से बाहर करना चाहते हो?’’

जब भारतीय कप्तान से पूछा गया, कि क्या घरेलू मैदान पर यह आपका अंतिम टी-20 मैच हो सकता है? इसके जबाब में भारतीय कप्तान ने कहा: ‘‘हमें आप क्यों जबरन खेल से बाहर करना चाहते हो?’’  भारतीय कप्तान ने पलटवार करते हुए यह भी पूछ डाला, “जब मै खेल के इस प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन कर रहा हूँ, तो फिर क्यों कुछ लोग जबरन मुझे इस फ़ॉर्मेट से बाहर निकालना चाहते है?”

जब भारतीयकप्तान से यह पूछा गया, कि क्या कारण है, जो आप घरेलू मैदान पर हमेशा ही अजेय रहते है? इस पर भारतीय कप्तान ने  कहा: “यह हमारा घर है, यहाँ सामान्य से अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होता है, यहाँ आना मुझे काफी अच्छा लगता है, यहाँ आकर मै अपने परिवार के साथ कुछ समय व्यतीत कर पाता हूँ. यहाँ आकर मुझे काफी अच्छा लगता है.”

 

 

आज हार्दिक पंड्या का बल्ला रांची में जमकर बरसा जिसके बाद जब भारतीय कप्तान से यह पूछा गया, कि क्या आगे पंड्या को टीम में और भी अवसर मिलेंगे? इस पर भारतीय कप्तान ने काफी खूबसूरती से जबाब देते हुए कहा, कि “इसी तरह का अवसर हम विश्व कप के पहले अन्य नये खिलाड़ियों को भी देना चाहेंगे लेकिन इसके लिए मैच और माहौल दोनों का इंतजार करना होता है.”

राँची की पिच तो बल्लेबाजी के लिए ही बनी थी, लेकिन आउट फिल्ड काफी खराब था, जिसके बाद जब भारतीय कप्तान से पिच के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि “आज का पिच बहुत ही अच्छा था और यदि 19वें ओवर में तिसारा परेरा को हैट्रिक नहीं मिलती तो यहां दो सौ से अधिक रन भारत ने बनाए होते.”

अंत में जब भारतीय कप्तान से यह पूछा गया, कि काफी लम्बे समय से आपने अपना पसंदीदा हेलीकॉप्टर शोत्नाही खेला? इसका जबाब देते हुए धोनी ने कहा “इस शॉट को हर समय नहीं खेला जा सकता, उसके लिए सही समय और सही गेंद का होना आवश्यक होता है.” इस पर थोड़ा तंज कसते हुए भारतीय कप्तान ने कहा; “हेलीकाप्टर समुद्र से न तो उड़ाया जा सकता है और न ही उसमें उतारा जा सकता है. उसके लिए सही स्थान होना आवश्यक है.’’

Related posts

Leave a Reply