विश्व क्रिकेट के महान विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट आज मना रहे हैं अपना जन्मदिन

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी

विश्व क्रिकेट के सबसे महान विकेटकीपर बल्लेबाजों में से एक रहे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट ने आज अपने जीवन के 47 बरस पूरे कर लिए हैं। एडम गिलक्रिस्ट आज यानि 14 नवंबर को अपना 47वां जन्मदिन मना रहे हैं।

महान विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट हुए 47 साल के

महान विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट का जन्म 14 नवंबर 1971 को ऑस्ट्रेलिया के बेलिंगन में हुआ। एडम गिलक्रिस्ट ने अपने करियर की शुरुआत 1996 में वनडे मैच के साथ ही।

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 1

इसके बाद इन्होंने अपनी बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग से दुनिया को अपना कायल बना दिया और 12 साल तक ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट का प्रतिनिधित्व करते हुए महान विकेटकीपर बल्लेबाज बने।

इस जेंटलमैन गेम की सबसे बड़ी शान रहे हैं गिलक्रिस्ट 

एडम गिलक्रिस्ट के बारे में हर कोई जानता है कि वो कितने खतरनाक बल्लेबाज होने के साथ ही विकेटकीपिंग में भी जबरदस्त हैं। लेकिन इन सबके बीच गिलक्रिस्ट इस जेंटलमैन गेम की शान भी हैं।

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 2

जी हां एडम गिलक्रिस्ट जितने बड़े क्रिकेटर रहे हैं उतने ही बड़े जेंटलमैन क्रिकेटर भी रहे हैं इसके कई उदाहरण है लेकिन आज हम आपको उन्हीं मे से एक बड़े उदाहरण से रूबरू करवाते हैं।

2003 विश्व कप सेमीफाइनल में गिली ने दी खेल भावना की मिसाल

एडम गिलक्रिस्ट एक नेक खिलाड़ी हैं इसका एक बड़ा उदाहरण उन्होंने  2003 के विश्वकप सेमीफाइनल में श्रीलंका के खिलाफ साबित किया था। जब उन्होंने अंपायर के द्वारा नॉट आउट दिए जाने के बाद भी खुद को पता चलने पर पैवेलियन की तरफ निकल पड़े।

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 3

आमतौर पर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्पिरिट ऑफ गेम के लिए नहीं जाने जाते हैं। लेकिन गिलक्रिस्ट ने अपने इस नेकी भरे काम से हर किसी को गलत साबित कर दिया।

अंपायर के नॉट आउट देने के बाद भी गिली ने छोड़ दिया क्रीज

साल 2003 विश्व कप सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर रही थी। ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज गिलक्रिस्ट और हेडन ने 5 ओवर में ही 34 रन बना डाले थे।

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 4

तभी श्रीलंका के कप्तान ने गेंदबाजी में बदलाव कर अरविंद डी सिल्वा को गेंद थमाई। इस ओवर की दूसरी ही गेंद पर गिलक्रिस्ट स्वीप खेलने की कोशिश की लेकिन गेंद उनके बल्ले का हिस्सा लेते हुए वहीं खड़ी हो गई विकेटकीपर संगकारा ने कैच कर लिया।

गिलक्रिस्ट ने ऐसी मिसाल पेश कर जीत लिया हर किसी का दिल

श्रीलंका के फील्डिर जबरदस्त अपील करने लगे लेकिन अंपायर ने इसे ठुकरा दिया। तभी दूसरी तरफ जो नजारा देखने को मिला वो बड़ा ही अनोखा था। क्योंकि अंपायर ने तो नॉट आउट करार दे दिया लेकिन एडम गिलक्रिस्ट खुद को पता होने के कारण वो पैवेलियन लौटने लगे। हर कोई हैरान था और साथ ही गिलक्रिस्ट की खेल भावना की तारीफ कर रहा था।

Birthday Special : जब वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में नॉटआउट होने के बाद भी पैवेलियन लौट गया था यह दिग्गज खिलाड़ी 5

उस समय कमेन्ट्री कर रहे टॉनी ग्रेग ने कमेन्ट्री में बोला कि गेंद हवा में है और अंपायर ने नॉट आउट दे दिया है, वो चल रहे हैं…. वो चल रहे हैं। वाह! ये देखने में बहुत शानदार है।

 

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आपको हम जल्दी पहुंचा सके।

Related posts

Leave a Reply