रविचंद्रन अश्विन

भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने हालिया सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ 400वां टेस्ट विकेट हासिल कर लिया। इसके बाद उन्होंने कुछ ट्वीट्स किए। जिसके बाद ट्वीटर पर उनको लेकर ट्वीट्स की बाढ़ आ गई। कई लोगों ने अश्विन के ट्वीट का गलत मतलब निकाला है। जिसके बाद उन्हें को इस बात की सफाई देने खुद आना पड़ा।

किसान आंदोलन से जोड़ा गया ट्वीट

टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट लेने के बाद अश्विन ने कुछ ट्वीट किए हैं। अश्विन 400 विकेट लेने वाले दूसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं। दरअसल, रविचंद्रन अश्विन ने ट्वीट में कहा –

 “बाजार में हर तरह के उत्पाद बेचने के लिए एक रणनीति बनाई जाती है। हम उस युग मे जी रहे हैं जहां विचार भी बेचे जाते हैं।”

इसको बाहरी मार्केटिंग का हिस्सा भी माना जा सकता है। हमें विचार को खरीदने के लिए भी कहा जाता है।’ इसके बाद लोग उनके ट्वीट्स को किसान आंदोलन से जोड़ने लगे। रविचंद्रन अश्विन ने शुक्रवार को मीडिया हाउसों से कहा कि वो उनकी टिप्पणियों का राजनीतिकरण करना बंद करें। दरअसल, 400 टेस्ट विकेट लेने वाले वो दूसरे सबसे तेज गेंदबाज बन गए हैं। इसके बाद अश्विन ने ट्विटर पर “उत्पादों”, “विचारों”, “मार्केटिंग” और अपनी “पसंद” जैसी चीजों के बारे में बात की।

सिर्फ क्रिकेट ही मेरा पेशा है

दरअसल, रविचंद्रन अश्विन ने एक सीरीज में कुछ ट्वीट किए थे। उन्होंने कहा था कि बाजार में हर तरह के उत्पाद बेचने के लिए एक रणनीति बनाई जाती है। हम उस युग मे जी रहे हैं जहां विचार भी बेचे जाते हैं। इसको बाहरी मार्केटिंग का हिस्सा भी माना जा सकता है। हमें विचार को खरीदने के लिए भी कहा जाता है। जिसको लेकर उनके ट्वीट्स को किसान आंदोलन से भी सोशल मीडिया यूजर्स ने जोड़ना शुरू कर दिया। अश्विन ने कुल तीन ट्वीट किए है। जिसमे उन्होंने पहले ट्वीट में लिखा-

“आप खुद कुछ नहीं सोच सकते। हम आपको सिखाएंगे कि कैसे सोचा जाता है और किस तरह से सोचा जाता है। 10 साल तक यह खेल खेलने के बाद इतना पक्के तौर पर कह सकता हूं कि जब तक इसे खरीदने को आतुर रहेंगे यह हमारे मुंह में शब्द डालेंगे।”

“अंत में मैं यही कहना चाहूंगा कि हमें अपना विचार सोचना चाहिए और उस पर कायम रहना चाहिए फिर भले ही वह बहुसंख्यक वर्ग से अलग हो। कम से कम आपका विचार वह तो नहीं है जो आपको बेचा जा रहा है”

अश्विन ने सोशल मीडिया पर शेयर किया वीडियो

अश्विन ने अपने तीनों ट्ववीट पर बढ़ते विवाद और राजनीति की वजह से एक सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया। जिसमे बताया जा रहा है कि अश्विन ने किसी तरह की राजनीति के उद्देश्य से ट्वीट नहीं किए हैं। साथ ही अश्विन ने कहा है कि वो गलती से क्रिकेटर बन गए उनका पेशा सिर्फ क्रिकेट है और कुछ नहीं। उनके ट्वीट में किसी तरह का मसाला न जोड़ा जाए। इस मामले पर विस्तार से उन्होंने बात नहीं की।